सैफनिक्स कम्पनी पर चलेगा राजस्व विभाग का डंडा !

पॉवटा साहिब लेटेस्ट न्यूज़ हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

पांवटा साहिब के बरोटीवाला स्थित सैफनिक्स कम्पनी के खिलाफ सरकार का डंडा चलना शुरू हो गया है। जिला राजस्व अधिकारी ने सम्बंधित कंपनी की जांच रिपोर्ट तलब की है। तहसीलदार पांवटा साहिब को उक्त मामले की निष्पक्ष जांच और क़ानूनी कार्रवाई के आदेश दिए है।
यह खुलासा सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के तहत शिकायतकर्ता द्वारा मांगी गयी सूचना के बाद हुआ है सूचना के अधिकार के तहत जो पत्र प्राप्त हुआ है उसमे प्रारम्भिक तौर पर ऐसा आभास हो रहा है कि कम्पनी सैफनिक्स द्धारा राजस्व को चूना लगाया गया है और सरकार के साथ धोखा धडी की है।
बरोटी वाला स्थित कम्पनी पहले एक फर्म के नाम से पंजीकृत थी जिसे बाद मे नाम बदल दिया गया, मामला उजागर हुआ तो कम्पनी ने आनन फानन मेे सामने वाली एक अन्य जगह के लिये 118 की परमीशन के लिए अप्लाई कर दिया लेकिन कम्पनी प्रबन्धन ने बिना परमीशन के ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया। कम्पनी लगातार पार्टनर्स बदलती रही किन्तु सरकार से 118 की परमीशन लेने की जरूरत नही समझी। शिकायत व् सम्बंधित दस्तावेज मिलने के बाद से जिला राजस्व अधिकारी ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। आरटीआई से पत्र प्राप्त हुआ है उसमे कम्पनी ने हेराफेरी की है और धारा 118 की उल्लंघना की है जिस पर कार्यवाही बनती है।
दरसल इस मामले को लेकर शिकायत कर्ता आसिफ अली ने स्टेट बिजीलेन्स को शिकायत की थी वह शिकायत घूमफिर कर जिला के राजस्व अधिकारी के पास जांच हेतु पहुंची जिसपर जिला राजस्व अधिकारी ने निर्भय होकर जांच की है आगामी कार्रवाई के लिए तहसीदाल पांवटा को पत्र भेजा है। यह भी गौरतलब है की सम्बंधित कंपनी पहले से ही विवादों में रही लेकिन अंदर की बात को अंदर ही दबा दिया जाता था। राजस्व विभाग ही नहीं कंपनी ने प्रदुषण के मामले में भी कई अनियमितताएं बरती हुई थी। एक मामले में एक फर्जी पत्रकार यहाँ से बड़ा अमाउंट भी ले गया था और उस समय भी कंपनी चर्चा में रही लेकिन मामला रफादफा हो गया था। स्थानीय लोगो ने कई बार कंपनी के गंदे पानी के टेंकर खुले में खाली करते हुए पाए और कई बार इसका विरोध भी किया। लेकिन अब सम्बंधित कंपनी सरकार के साथ धोखाधड़ी के मामले को लेकर फिर से चर्चा में है अब देखना यह दिलचस्प रहेगा की कब तक कंपनी पर विभागीय जांच पूरी होगी और कार्रवाई होगी।