वाह री जयराम सरकार -गोरक्षा के एवज में मिली एफआईआर

Local News SIRMOUR (सिरमौर) पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

“गो सरंक्षण” के लिए धरना-प्रदर्शन कर मुहिम की अलख जगाने वाले गो सेवक सचिन ओबरॉय के खिलाफ पांवटा थाना में एफ़आईआर दर्ज की गई है। नगर परिषद पांवटा के कार्यकारी अधिकारी द्वारा सचिन ओबरॉय, अनिंद्र सिंह नॉटी व कुछ अन्य के खिलाफ यह शिकायत दर्ज करवाई गई है।

जानकारी अनुसार रणजीत सिंह वेदी पुत्र K.S. वेदी निवासी बैंक कलोनी वार्ड न. 13 पांवटा साहिब जिला सिरमौर हिप्र (कार्यकारी अधिकारी नगर पालिका पांवटा साहिब) ने थाना पांवटा साहिब में एक शिकायत 22/10/2021 को दर्ज करवाई है, जिसमें नगर पालिका परिषद पांवटा
साहिब के रामलीला मैदान को अवैध रूप से अतिक्रमाण करने बारे कहा गया हैं।

शिकायत अनुसार दिनांक 16-10-2021 को सचित ओबराय पांवटा साहिब द्वारा नगर पालिका के रामलीला मैदान का गौसंरक्षण की अपनी मुहिम के तहत शांतिपूर्वक प्रर्दशन गौ प्रदर्शन व विश्व शांति हेतू हवन पूजन यज्ञ करने की अनुमति ली गई थी। जिसमें केवल नियमानुसार शान्ति पूजन तथा हवन के लिये रामलीला मैदान को उपयोग करने की
अनुमति प्रदान की थी।

लेकिन सचिन ओबराय द्वारा जारी अनुमति की अवहेलना करते हुये सोशल मीडिया में दिनांक 18.10.2021 को पोस्ट डालते हुये लिखा कि वह दिनांक 19.10.2021 से उक्त मैदान का अनिश्चितकाल भूख हडताल का उपयोग करने जा रहे हैं, जिसे नगर पालिका द्वारा गम्भीरता से लिया गया व तत्काल प्रभाव 18.10.2021 को जारी अनुमति को रद्द कर दिया गया।

लेकिन अनुमति रद्ध होने के बावजूद उनके द्वारा नगर पालिका के रामलीला मैदान को प्रधान व्यापार मण्डल अनिंदर सिंह नॉटी तथा कुछ अन्य लोगो एंव कुछ गौमाता सहित मैदान के गेट का ताला तोड पर जबरदस्ती अवैध कब्जा कर लिया गया। जब उन्हें पुलिस कर्मियों द्वारा रोका गया तो उनके रोकने के बावजूद मैदान पर कब्जा कर लिया गया, जबकि नगर पालिका द्वारा उक्त मैदान की साफ सफाई तथा मैदान को समतल करने का कार्य किया जाना प्रस्तावित है।

लेकिन अवैध रूप से मैदान को अस्थाई तौर पर गौमाता सहित कब्जा किये जाने से नगर पालिका मैदान की उचित सफाई करवाने में असहज महसूस कर रही थी और सरकारी कार्य करने में बाधा उत्पन्न हो गई है।

शिकायत में कहा गया है कि इसी निरन्तरता में व्यापार मण्डल पौण्टा के प्रधान अनिंद सिंह नौटी द्वारा 22.10.2021 को प्रातः ही नगर पालिका के रामलीला मैदान के मुख्य गेट का ताला तोड़ कर जबरदस्ती अपने वाहन को मुख्य गेट
के बीच में लगा का अतिक्रमाण कर दिया। जिससे मैदान में आवागमन पूरी से बन्द हो गया।

गौरतलब हो कि बीते दिनों गोसेवक सचिन ओबरॉय अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गए थे जिस दौरान उनके समर्थन में व्यापार मंडल अध्यक्ष अनिंदर सिंह नॉटी, पोंटा कांग्रेस मंडल अध्यक्ष अश्वनी शर्मा व उनके साथी अजय सैंरवाल सहित कई दिग्गज नेता व व्यक्ति धरना स्थल पर उनके समर्थन में पहुंचे थे।

हालांकि कुछ समय बाद प्रशासन ने इस लापरवाही को माना व उसके बाद पोंटा साहिब में आवारा पशुओं को गौशालाओ तक पहुंचाने हेतु एक कमेटी का गठन भी किया था। यही नहीं प्रदेश स्तर पर भी इस मुहिम का असर देखा गया।

इस बारे में गोसेवक सचिन ओबरॉय का कहना है कि वह आज भी गोसेवा व संरक्षण के लिए मुहिम जारी रखे हुए हैं। इस को लेकर चाहे उन्हें किसी भी परिस्थिति का सामना करना पड़े। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ FIR दर्ज हुई हैं, जिसके तहत कोर्ट में 22 जनवरी 2022 को उनकी पेशी हैं। जिसमें उनके कुछ और साथी भी शामिल हैं।