“ओमिक्रॉन” का मामला रिपोर्ट होने के बाद राज्य सरकारें हुई सतर्क

Local News SHIMLA (शिमला) स्वछता स्वास्थ्य हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / शिमला

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के नए वेरिएंट “ओमिक्रॉन” का मामला रिपोर्ट होने के बाद अब राज्य सरकारें काफी सतर्क हो गई हैं। इसी को मद्देनजर रखते हुए हिमाचल सरकार व प्रशासन अपनी ओर से कोरोना से निपटने के लिए हर संभव कोशिश करने में जुटे हुए हैं।

इस सब के बीच विदेश से आए 550 लोग देवभूमि हिमाचल में दाखिल हुए हैं। सरकार की ओर से सभी लोगों को आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने के निर्देश दिए गए हैं।

बता दें कि सरकार ने सभी विदेशियों को आठ दिन के भीतर टेस्ट करवाने को कहा है। सरकार के पास इन सभी का बायोडाटा पहुंच गया है, जिनकी निगरानी की जा रही है।

सरकार की ओर से सभी को 14 दिनों तक क्वारंटीन रहने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग को कोरोना के ज्यादा से ज्यादा सैंपलिंग करने के निर्देश दिए गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोराना का ओमिक्रॉन वेरिएंट डेल्ट के मुताबिक सात गुना ज्यादा तेजी से फैलता है। इस वेरिएंट का प्रभाव फेफड़ों पर ज्यादा पड़ता है।

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने कहा कि कोरोना की दूसरी डोज लगाने के बाद जो लोग भी पॉजिटिव आ रहे हैं, उनके सैंपल जांच के लिए दिल्ली भेजे जायगें।

नए वैरिएंट से लड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिलों में टीमें गठित की हैं। इसके तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में अतिरिक्त स्टाफ तैनात किया गया है।