प्रदीप चौहान ने जताई थी आशंका, लोगो ने भी लगाए ये आरोप

Local News SIRMOUR (सिरमौर) पॉवटा साहिब समस्या हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

मजदूर नेता प्रदीप चौहान पर खनन माफिया द्वारा बदतमीज़ी और हमला करने की कौशिश का मामले पेश आया है , प्रदीप चौहान ने इस बारे डीएसपी पांवटा साहिब को भी लिखित शिकायत दी है। पुलिस को दी शिकायत में प्रदीप चौहान ने बताया कि वह मौके से अपनी जान बचाकर भाग गये वरना माफिया ने उन्हे नुकसान पंहुचा सकते थे। प्रदीप चौहान ने इस बाबत डीएसपी पांवटा बीर बहादुर को भी एक लिखित शिकायत दे दी है और कहा है कि जब तक उन्हे पुलिस सुरक्षा नही मिलती वह पांवटा पुलिस थाने के अंदर ही रहेंगे। साथ ही आरोपी के खिलाफ कार्रवाई न होने पर कल से अन्न त्याग देंगे। बता दें कि प्रदीप चौहान ने गिरिपार क्षेत्र के भटरोग एरिया मे अवैध खनन की शिकायत की थी जिस पर वन विभाग की टीम मौके पर कार्यवाही करने पंहुची और मौके पर प्रदीप चौहान को भी बुला लिया। प्रदीप चौहान ने बताया कि वह मौके से भागने मे सफल हो गये वरना माफिया उन्हे मारने पर उतारू थे। वह अपनी मोटरसाईकिल भी मौके पर छोड़ गये और बस से पांवटा साहिब पंहुचे है। उन्होंने अवैध खनन करने वालों और उनसे बदसलूकी करने वालों पर कार्रवाई की मांग की है। वहीं दूसरी तरफ गिरिपार क्षेत्र के भटरोग के ग्रामीणों ने एकजुट होकर प्रदीप चौहान के खिलाफ बार-बार झूठी शिकायतें दर्ज कर परेशान करने के आरोप लगाए हैं। ग्रामीणों का आरोप है की प्रदीप चौहान आए दिन वन विभाग व सीएम हेल्पलाइन पर झूठी शिकायतें कर ग्रामीणों को परेशान कर रहा है। उन्होंने कहा कि जिस रास्ते से समस्त ग्रामवासी अपना कृषि का उत्पाद, फसल, आम, अदरक, टमाटर आदि मंडी तक ले कर जाते हैं, इतना ही नहीं मजदूरी के लिए ड्यूटी या मुर्दा घाट जाने के लिए यही रास्ता है, को बंद करवाने का प्रयास किया जा रहा है। लोग एक सप्ताह पहले इस संदर्भ में ग्रामीण जिलाधीश सिरमौर से मिले थे। जिस पर जिलाधीश ने आश्वासन दिया था कि गांववालों का रास्ता बंद नहीं किया जाएगा।उधर, डीएसपी बीर बहादुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि दोनों ओर से शिकायतें मिली हैं। मामले की जांच कर उचित कारवाई की जाएगी।