वीरभद्र सिंह के नजदीकी दलीप चौहान को पार्टी से निकालने को प्रस्ताव पास

Local News SIRMOUR (सिरमौर) शिलाई हिमाचल

दलीप चौहान के निष्कासन को शिलाई कांग्रेस के जनरल हाउस में उठी मांग

सिरमौर न्यूज़ / शिलाई

पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह के खासम खास व पूर्व सिरमौर जिला परिषद अध्यक्ष कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिलीप चौहान को कांग्रेस से बाहर किया जा रहा है। इस संबंध में शिलाई कांग्रेस ने जनरल हाउस में प्रस्ताव पास किया है। दिलीप चौहान के निष्कासन का प्रस्ताव प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय को भेजा गया है। चौहान पर पार्टी विरोधी गतिविधियों गंभीर आरोप लगे हैं।

बताते चलें कि शिलाई विधानसभा प्रभारी व कांग्रेस महासचिव चंद्रमोहन ठाकुर की उपस्थिति में शिलाई कांग्रेस का जनरल हाउस आयोजित किया गया था। जनरल हाउस में शिलाई विधायक हर्षवर्धन चौहान भी उपस्थित रहे। जिला परिषद अध्यक्ष दिलीप चौहान के निष्कासन का प्रस्ताव पास होने से शिलाई की सर्द वादियों में राजनीति गर्माहट पैदा हो गई है। खासा जनाधार रखने वाले दिलीप चौहान का निष्कासन होता है तो शिलाई भाजपा उन्हें अपने खेमे में मिलाने का भी जरूर प्रयास करेगी। उधर दिलीप चौहान ने उन पर लगे पार्टी विरोधी आरोपों को सिरे से नकार दिया है। दलीप चौहान का कहना है कि आरोप निराधार हैं। वह पार्टी के वफादार सिपाही हैं। कभी पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल नहीं रहे। चौहान का कहना है कि पार्टी किसी की जागीर नहीं है। हिमाचल हाईकमान द्वारा उन्हें पार्टी के उच्च पद पर आसीन किया गया है। इसलिए मंडल कांग्रेस उनका निष्कासन नहीं कर सकती।

गौरतलब है कि दिलीप चौहान शिलाई कांग्रेस के वरिष्ठ एवं कद्दावर नेताओं में शामिल है। लादी क्षेत्र में कांग्रेस के वोटरों पर उनकी व्यक्तिगत तौर पर खासी पकड़ है। लेकिन शिलाई विधायक हर्षवर्धन चौहान से उनकी दूरियां रही हैं। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से उनकी काफी नजदीकियां रही है। राजनीति के जानकारों का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के रहते दिलीप चौहान को पार्टी से नहीं निकाला जा सकता था। दिलीप चौहान का भी कहना है कि उन्हें सुनियोजित ढंग से षड्यंत्र कर पार्टी से निकालने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में अब सवाल यह उठ रहा है कि दिलीप चौहान को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा कर विधायक हर्षवर्धन चौहान कहीं निजी खुन्नस तो नहीं निकाल रहे हैं?

उधर शिलाई कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम शर्मा ने कहा कि पिछले कुछ अर्से से दिलीप चौहान पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप सामने आ रहे थे। लिहाजा, उनके पार्टी से निष्कासन का प्रस्ताव पास कर प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजा गया है।

Leave a Reply