राजेन्द्र तिवरी बने माइनिंग इंजीनियर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया हिमाचल चैप्टर के चेयरमैन

Local News SHIMLA (शिमला) हिमाचल

सिरमौर न्यूज़

वरिष्ठ पत्रकार, समाजसेवी और महाप्रबंधक मैसर्स जय सिंह ठाकुर एंड संस ,राजेंद्र तिवारी को सर्वसम्मति से माइनिंग इंजीनियर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया हिमाचल चैप्टर का चेयरमैन चुना गया है। चैप्टर के पूर्व चेयरमैन सुभाष शर्मा की अध्यक्षता में चैप्टर की एक वर्चुअल मीटिंग सम्पन्न हुई थी। हिमालयन चैप्टर की नई टीम दो वर्ष के लिए प्रस्तावित की गई है।

इस टीम में राजेंद्र तिवारी को चेयरमैन, अमित दुबे को वाइस चेयरमैन, डॉ.एस.एस.रंधावा को सचिव, संजीव शर्मा को संयुक्त सचिव, आर.आर.प्रसाद को कोषाध्यक्ष चुना गया। जबकि पूर्व चेयरमैन सुभाष शर्मा, अरुण शर्मा, डॉ नवल किशोर, डॉ एच आर डांडी, अशोक शर्मा, कुम्भा राम चौधरी को चैप्टर कार्यकारिणी का सदस्य चुना गया।
बताते चलें कि माइनिंग इंजीनियर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की स्थापना वर्ष 1957 में स्वर्गीय एन.एस. क्लेयर और अन्य प्रख्यात खनन इंजीनियरों के गतिशील नेतृत्व में किया गया था।

नवनियुक्त अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ने बताया कि माइनिंग इंजीनियर एसोसिएशन ऑफ इंडिया के गठन के कई उद्देश्य रहे हैं। उन्होंने कहा कि संघ के गठन का मुख्य उद्देश्य खनन उद्योग से जुड़े खनन इंजीनियरों, भूवैज्ञानिकों और संबद्ध इंजीनियरों के हितों की रक्षा करना और उनके पेशे में उनकी सामाजिक और बौद्धिक स्थिति में सुधार करना है। साथ ही खनन इंजीनियरिंग और अन्य संबद्ध पृथ्वी विज्ञान के विशेष संदर्भ में तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने में सहायता और भाग लेना, देश के आर्थिक और औद्योगिक विकास को प्रभावित करने वाले सभी विधानों की प्रगति पर निगरानी रखना, विशेष रूप से और अपने सदस्यों के सामूहिक विचारों को आवश्यक होने पर उचित मंच तक पंहुचाना, अपने सदस्यों और खान प्रबंधन, सरकारी अधिकारियों और श्रमिकों के बीच सौहार्दपूर्ण संबंध बनाना, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर खनन और खनिज उद्योगों से संबंधित विभिन्न बोर्डों, समितियों और नीति.निर्माण निकायों में एसोसिएशन का प्रतिनिधित्व प्राप्त करना, तकनीकी पेपर प्रस्तुतियों, कार्यशालाओं, संगोष्ठियों, चर्चाओं आदि का आयोजन करके खनन उद्योग में खनन और संबद्ध व्यवसायों की कला विज्ञान और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देना, देश में पृथ्वी विज्ञान और खनन शिक्षा को बढ़ावा देने, खनन और खनिज उद्योगों में कल्याण और सामाजिक.आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देना संघ के उद्देश्य हैं।
बैठक के दौरान सुभाष शर्मा ने संघ की अगली बैठक फिजिकल मोड में करने का भी सुझाव दिया। बैठक में ए.सी.सी. बरमाना के खनन प्रमुख पंकज नयन विशेष रूप से उपस्थित रहे और उन्होंने चैप्टर को सक्रिय करने में अपनी प्रमुख भूमिका निभाने का वादा किया। बैठक के प्रारंभ में स्व.जितेन्द्र सूद, स्व. वी.के.वालिया व स्व. ज्ञान चंद जी चैप्टर के वरिष्ट दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजली व्यक्त की गई।