नहीं रहे कांग्रेस के कद्दावर नेता जीएस बाली

SIRMOUR (सिरमौर) स्वास्थ्य हिमाचल

सिरमौर न्यूज़

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस में वीरभद्र सिंह के दूसरे कद्दावर नेता जीएस बाली का निधन हो गया है। पूर्व मंत्री जीएस बाली किडनी की गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। बताया जा रहा है कि एम्स में उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। यहां उपचार के दौरान ही उनका देहांत हो गया। पूर्व मंत्री जीएस बाली ने दिल्ली के एम्स अस्पताल में अंतिम सांस ली। जीएस बाली की उम्र 67 वर्ष थी।

जीएस बाली के नाम से विख्यात गुरमुख सिंह बाली नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र से चार बार विधायक रहे थे। दो बार प्रदेश कैबिनेट में मंत्री पद पर भी रहे। दोनों कार्यकाल में उनके पास कई विभाग रहे लेकिन उन्हें परिवहन मंत्री के तौर पर प्रदेश भर में जाना जाता है। हालांकि बतौर परिवहन मंत्री उनका कार्यकाल विवादों में भी रहा, मगर परिवहन विभाग में उनके कार्यकाल के दौरान सबसे अधिक भर्तियां हुई और कई बेरोजगारों को नौकरियां मिली।
पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन के बाद भी जीएस बाली यकायक चर्चा में आ गए थे। उन्हें कांग्रेस के भीतर मुख्यमंत्री पद का सबसे प्रबल दावेदार माना जाने लगा था। हालांकि मुख्यमंत्री पद की लॉबिंग में कई नाम शामिल थे लेकिन जीएस बाली का नाम शीर्ष पर रहा। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन के बाद जीएस बाली के निधन को कांग्रेस में बड़े नुकसान के तौर पर देखा जा रहा है। जीएस बाली के निधन से ना सिर्फ कांग्रेस बल्कि समूचे राजनीति गलियारों में शोक की लहर है।