प्रधानमंत्री के वर्चुअल कार्यक्रम में कुव्यवस्था का आलम, पत्रकारों को जमीन पर बैठकर करनी पड़ी कवरेज

Local News SIRMOUR (सिरमौर) पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

पांवटा साहिब के सिविल अस्पताल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ऑक्सीजन प्लांट के वर्चुअल शुभारंभ के दौरान पत्रकारों को तिरस्कार का सामना करना पड़ा। कार्यक्रम की कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों को बैठने के लिए कुर्सियां भी उपलब्ध नहीं करवाई गई, पानी तक नहीं पूछा गया।

हालांकि कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी, डीसी सिरमौर सीएमओ सिरमौर सहित भाजपा के दिग्गज नेता व अधिकारी उपस्थित थे। मगर व्यवस्था की तरफ किसी ने ध्यान नहीं दिया या जानबूझकर नजरअंदाज करते रहे। ऐसे में अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिए पत्रकार वीआईपी दीर्घा के आगे जमीन पर बैठ गए और यथासंभव कार्यक्रम की कवरेज करने लगे। लेकिन इस बीच कुछ प्रशासनिक अधिकारी और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी पत्रकारों को वहां से उठने की विनती करने लगे। जिससे पत्रकारों के काम में और बाधाएं उत्पन्न हुई। ऐसे में नाराज पत्रकार कार्यक्रम छोड़कर अस्पताल परिसर से बाहर आ गए। हैरानी की बात यह है कि मीडिया के सम्मान और अधिकारों की बात करने वाले भाजपा नेताओं का जमावड़ा कार्यक्रम में था और ऊर्जा मंत्री सहित सभी नेता पत्रकारों को 1 घंटे से खड़े रहकर कवरेज करते देख रहे थे, मगर किसी भी नेता, प्रशासनिक अधिकारी और अस्पताल प्रशासन ने पत्रकारों के बैठने की व्यवस्था करने की जहमत नहीं उठाई।

इस दौरान वीडियो कवरेज के लिए पत्रकारों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। यही नहीं मीडिया कर्मियों द्वारा जब वॉलिंटियर्स से पानी मांगा गया, तो वह भी नसीब नहीं हुआ।
कार्यक्रम में यह कुव्यवस्था प्रदेश सरकार की अफसरशाही पर ढीली पकड़ को दर्शाता है। हैरानी की बात यह भी है कि लगभग आधा घंटा तक चले इस प्रकरण के दौरान ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी मूकदर्शक बने रहे। जबकि उन्हें भली प्रकार विदित है कि इस तरह की कुव्यवस्था के कारण पहले भी मुख्यमंत्री तक को शर्मसार होना पड़ा है।