निकम्मे प्रोजेक्ट डायरेक्टर की वजह से कम्पनियां कर रही मनमानी, जनता उठा रही नुकसान

Local News SIRMOUR (सिरमौर) पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़

प्रोजेक्ट डायरेक्टर और कंपनियों पर बरसे फिर बरसे नाथूराम चौहान

अक्सर, एनएच 707 निर्माण कार्य कर रही कंपनियों पर बरसने वाले एन्टी करप्शन एंड क्राइम कंट्रोल फोर्स के प्रदेश अध्यक्ष नाथूराम चौहान ने राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रोजेक्ट डायरेक्टर को जमकर खरी-खोटी सुनाई। एनआर चौहान ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने यहां पर निकम्मा प्रोजेक्ट मैनेजर और निठल्ली टीम बिठा दी है। जिसकी वजह से क्षेत्र के लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

पांवटा साहिब में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसीसीएफ अध्यक्ष नाथूराम चौहान ने कहा कि विभाग के निकम्मे पन की वजह से कंपनियां अपनी मर्जी से काम कर रही है। नियम कानूनों को ताक पर रखा जा रहा है। न तो चौड़ीकरण के काम में नियम कानूनों का पालन किया जा रहा है, न ही मलबे की डंपिंग में। उन्होंने कहा कि सभी डंपिंग यार्ड असुरक्षित स्थानों पर बने हैं। जिससे लोगों को भारी नुकसान हुआ है और भविष्य में भी नुकसान की आशंका है। विभागों की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए नाथूराम चौहान ने कहा कि हजारों पेड़ मलबे में दफन हो गए हैं। सैकड़ों पेड़ों को काटकर डंपिंग यार्ड में दफन कर दिया गया है।

चौहान ने बताया कि पहले तो कंपनी के इंजीनियरों ने गलत स्थानों पर डंपिंग यार्ड अलॉट किए। उसके बाद विभाग के अफसरों के निकम्मे पन की वजह से काम कर रही कंपनियां बेतरतीब ढंग से डंपिंग यार्ड में मलवा डाल रही है, जोकि वर्तमान और भविष्य में बड़े खतरे की ओर इशारा कर रहे हैं। अध्यक्ष ने आरोप लगाए कि विभाग के निक्कमे अधिकारी साइट पर जाकर यह देखने की जहमत नहीं उठाते की कंपनियां किस तरह से काम कर रही हैं। उन्होंने हैरानी जताई प्रशासन और एनएचएआई को बार बार शिकायतें करने पर भी इन निठल्ले अधिकारियों पर कार्यवाही नहीं हो रही है। नाथूराम चौहान ने स्पष्ट किया कि यदि एनएचएआई और प्रशासन ने प्रोजेक्ट डायरेक्टर और काम कर रही कंपनियों पर कार्रवाई नहीं की तो है आगे सख्त कदम उठाने पर मजबूर हो जाएंगे। उन्होंने उम्मीद जताई के एनएचएआई को भेजी गई शिकायतों के आधार पर इन अधिकारियों और कंपनियों पर जल्द सख्त कार्रवाई होगी।