फिर उठी खनन को उद्योग का दर्जा देने की मांग

Local News हिमाचल

सिरमौर माइन ओनर्स एसोसिएशन ने उठाई मांग

सिरमौर न्यूज़

खनन को उद्योग का दर्जा देने के लिए फिर एक बार आवाज बुलंद हुई है। सिरमौर माइन ओनर्स एसोसिएशन ने उद्योग विभाग के निदेशक राकेश प्रजापति के समक्ष मांग उठाई है। पांवटा साहिब में हिमाचल चैंबर ऑफ कामर्स भवन में निदेशक उद्योग राकेश प्रजापति के साथ सिरमौर माइन ऑनर्स व क्रेशर एसोसिएशन के बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में संघ ने निदेशक उद्योग विभाग को मांग पत्र सौंपा।

बैठक में सिरमौर माइन ओनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह ठाकुर और क्रेशर एसोसिएशन के अध्यक्ष मदन शर्मा अध्यक्ष क्रेशर एसोसिएशन ने निदेशक राकेश प्रजापति को समस्याओं से अवगत कराया।


सिरमौर माइन एसोसिएशन ने मांग पत्र में कहा है कि जिला सिरमौर का गिरिपार क्षेत्र एक कबायली क्षेत्र है जहाँ सुविधाओं का अभाव है। किस क्षेत्र में लोगों के पास रोजगार के कोई साधन नहीं हैं। जब से इस क्षेत्र में खनन कार्य प्रारम्भ हुआ है तब से यहां लोगों को रोजगार मिला है। लिहाजा खनन को उद्योग का दर्जा प्रदान किया जाए। माइन ऑनर्स एसोसिएशन का कहना है कि सरकार खनन कार्य के लिए पट्टा देने के अलावा और कोई सहायता नहीं देती। उन्होंने अपनी मांग रखते हुए कहा कि खनन व्यवसाय किसी तरह अपनी जीविका चला रहा था इसी बीच वैश्विक महामारी के कारण सब अस्त व्यस्त हो गया। अब यह व्यवसाय धीरे-धीरे बंद होने के कगार पर पंहुच गया है। खनन को अभी तक उद्योग का दर्जा नहीं मिला है जिसकी वजह से खनन को कोई भी वित्त संस्थान वित्तीय सहायता प्रदान नहीं करते। पूंजी के अभाव में खनन व्यवसाय को जारी रखना कठिन होता जा रहा ऐसे में खनन को उद्योग का दर्जा दिया जाना जरूरी है। ताकि क्षेत्र के हजारों लोगों की रोजी-रोटी चलती रहे। सिरमौर माइन ओनर एसोसिएशन ने उद्योग विभाग के निदेशक राकेश प्रजापति से आग्रह किया है कि खनन को उद्योग का दर्जा दिलाने के अलावा अन्य मांगों पर भी विचार किया जाए ताकि खनन का कार्य जारी रहे और इस क्षेत्र के लोगों का रोजगार जुड़ा रहे।
इस अवसर पर जीएम डीआईसी जीएस चौहान, जिला खनन अधिकारी सुरेश भारद्वाज, आरपी तिवारी, जीएस सैनी, मनीष तोमर सहित खान व क्रेशर ऑनर उपस्थित थे।