कप्तान बोले जीरो टालरेन्स पर है सिरमौर पुलिस

Local News पॉवटा साहिब लेटेस्ट न्यूज़ स्वास्थ्य हिमाचल

सिरमौर न्यूज/नाहन

पत्रकार वार्ता में सिरमौर के पुलिस कप्तान ने कई अहम खुलासे करते हुए बताया कि पांवटा साहिब थाना में भी देवी नगर स्थित कम्पनी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

उन्होने गत रात्रि पकडी गई नशे की खेप के बारे में बताया कि 30/31-05-2021 की रात को पुरूवाला पुलिस की अगुवाई में पुलिस टीम थाना क्षेत्र में रात्रि गश्त के दौरान बांगरन चौक पर मौजूद थी तो विश्वसनीय सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि एक ट्रक HP17E-8213 जिसमें चालक सहित तीन लोग सवार है, में भारी मात्रा में नशीला पदार्थ गांजा लेकर पांवटा की ओर से शिवपुर की ओर आ रहा है। उक्त सूचना के आधार पर पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए स्थानीय गणमान्यों व्यक्तियों की मौजूदगी में शिवपुर चौक पर नाकाबन्दी की। नाकाबन्दी के दौरार समय करीब 3:25 बजे रात पांवटा साहिब की ओर से ट्रक HP17E-8213 मौका पर आया, जिसे चैंकिग के लिए रोका गया। उक्त ट्रक में चालक सहित तीन लोग सवार थे। पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर ट्रक चालक ने अपना नाम युसफ अली तथा साथ बैठे हुए दोनों व्यक्तियों ने अपने-2 नाम कादर अली एवं तोहिद अली बतलाए। पुलिस टीम द्वारा ट्रक की गहनता के साथ तलाशी ली गई तो तलाशी के दौरान ट्रक के अन्दर 31 पैकिट (पार्सल) सैलो टेप से बन्द किए हुए वरामद हुए, जिन्हे चैक करने पर उन पैकिटों के अन्दर गांजा वरामद हुआ। उपरोक्त वरामद हुए गांजा के पैकिटों को तोलने पर उन पैकिटो के अन्दर गांजा की कुल 303.056 किलो ग्राम मात्रा पाई गई। गौरतलब है कि जिला सिरमौर पुलिस द्वारा नशा के विरूद्ध चलाए गए अभियान के अन्तर्गत नशा माफिया पर यह एक बहुत वड़ी कार्यवाही हैं।

उक्त मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों का ब्यौरा निम्न प्रकार हैं:-

  1. युसफ अली पुत्र छितरूदीन निवासी ऊपरली भंगाणी, पांवटा साहिब जिला सिरमौर, हि0प्र0 उम्र 32 साल।
  2. कादर अली पुत्र गुलजारदीन निवासी सिंघपुरा, भंगाणी, तहसील पांवटा साहिब, जिला सिरमौर हि0प्र0 उम्र 43 साल।
  3. तोहिद अली पुत्र काबुलदीन निवासी ऊपरली भंगाणी, पांवटा साहिब जिला सिरमौर, हि0प्र0 उम्र 32 साल।
    मामले मे कार्यवाही को अन्जाम देने वाली पुलिस टीम में निरीक्षक विजय कुमार (SHO), उप निरीक्षक प्रताप सिहं, आरक्षी दिनेश कुमार, आरक्षी सुरेन्द्र कुमार, आरक्षी विक्की, आरक्षी कर्म चन्द एवं आरक्षी देवेन्द्र सिंह शामिल रहे हैं।
    जिला सिरमौर पुलिस द्वारा नशा तस्करों एवं माफिया पर यह एक वड़ी कार्यवाही हैं तथा आरोपियों से 303.056 कि0ग्रा0 गांजा वरामद करने में भी बहुत बड़ी सफलता प्राप्त हुई हैं। जिला सिरमौर पुलिस की नशा माफियों के लिए चेतावनी है कि नशा माफियों एवं तस्करों को कतैई नहीं बख्शा जाऐगा। और जिला सिरमौर पुलिस उक्त नीति के अन्तर्गत कड़ी कायर्कवाही अमल में ला रही है। जिसका उदाहरण बीती रात्रि का है। जिला सिरमौर पुलिस ने पिछले कुछ माहों में एक के बाद बड़े -2 मामलों को पकड़ने में सफल रही हैं। जिला सिरमौर पुलिस ने बर्ष 2021 में अब तक ND&PS ACT के अन्तर्गत उक्त मामले सहित 07 व्यापारिक मात्रा के मामले दर्ज किए हैं जिसमें दो मामलों में 1296.506 किलो ग्राम चूरा पोस्त (भुक्की) तथा 04 मामलों में 5.55 किलो ग्राम चरस आरोपियों से जब्त की गई हैं, जबकि बर्ष 2020 में व्यापारिक मात्रा का एक ही मामला दर्ज हुआ था। व्यापारिक मात्रा के मामलों में अपराधी व्यक्ति के लिए 10 बर्ष से 20 बर्ष तक की सजा और एक लाख से दो लाख रूपऐ तक के जुर्माना का प्रावधान हैं। उन्होने कहा कि सिरमौर पुलिस की नशा माफिया पर आगे भी कार्यवाही लगातार जारी रहेगी।

फर्जीवाडा :

फर्जी कम्पनियो को बेचते थे माल। ऐसे होती थी तस्करी — एसआईटी गठित। टीम के मुखिया होगे वीरबहादुर सिंह डीएसपी पांवटा कप्तान ने बताया कि देवीनगर स्थिति कथित नेता की दवा कम्पनी के बारे में बताया कि पंजाब पुलिस द्वारा पुलिस थाना मतेवाल, जिला अमृतसर के अन्तर्गत 50,000 नशीले कैप्सूलों (TRAMADOL) के साथ आरोपियों को गिरफ्तार किया था तथा जिस सन्दर्भ में पुलिस थाना मत्तेवाल, जिला अमृतसर, पंजाब में अभियोग संख्या 51/21, ND&PS ACT के अन्तर्गत मामला भी दर्ज किया गया था। उक्त मामले की जांच के दौरान पंजाब पुलिस ने उक्त कैप्सूलो का निर्माण हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के पांवटा साहिब क्षेत्र में स्थित दवा कम्पनी यूनिक फॉर्मूलेशन द्वारा करने पर दिनांक 27-05-2021 को यूनिक फॉर्मूलेशन दवा कंपनी में दबिश देते हुए जिला सिरमौर पुलिस और ड्रग्स विभाग के सहयोग से उक्त दवा कम्पनी का रिकॉर्ड़ खंगाला और छानबीन के दौरान कुछैक अनियमितताएं पाए जाने पर करीब 30 लाख कैप्सूल और टैबलेटस (TRAMADOL AND ALPRAZOL) जब्त किए थे। जिस पर जिला सिरमौर पुलिस ने विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी प्राप्त की तो पाया कि इस दवा कम्पनी के पास TRAMADOL & ALPRAZOLAM दवाईयां निर्मित करने का वैध लाईसैन्स है और कम्पनी ने यह लाईसैन्स लगभग तीन माह पहले ही प्राप्त किया था। इस दवा कम्पनी उक्त दवाईयों के रैपरो पर PB Pharmaceuticals, Raj Tower, 3rd Floor, Hauzkhas, New Dehli-110016 प्रकाशित करती थी। जिला सिरमौर पुलिस ने जब PB PHARMACEUTICALS के पता के बारे में दिल्ली पुलिस के माध्यम से छानबीन करवाई तो उक्त पता पर यह कम्पनी होना नहीं पाई गई। कम्पनी के दस्तावेज के अनुसार कम्पनी का मालिक मनीष मोहन हैं। पुलिस द्वारा प्रराम्भिक छानबीन के आधार पर UNIQUE FORMULATIONS दवा कम्पनी के मालिक/ मालिकों ने फार्मा कम्पनी ने प्रतिबन्धित दवाईयों के लाईसैन्स पर TRAMADOL HYDROCHLORIDE दवा के पैकिटों पर अपराधिक षड़यन्त्र के तहत PB PHARMACEUTICAL MARKETING COMPANY का नाम व पता प्रकाशित करते हुए अवैध कम्पनी के नाम पर अन्य राज्यों में निर्यात किया हैं। पुलिस ने उक्त दवा कम्पनी से तलाशी के दौरान PB PHARMACEUTICAL MARKETING COMPANY के Primary व Secondary Packaging के क्रमश: 02/3500 पैकिंग सामग्री, मार्का गजानन्द फार्मा के Primary व Secondary Packaging के क्रमश: 03/225 पैकिंग सामग्री, 1050 टैबलेटस (TRAMADOL HYDROCHLORIDE), एवं 745.36 कि0ग्रा RAW MATERIAL TRAMADOL भी वरामद किया हैं।उक्त दवा कम्पनी द्वारा कम्पनी में निर्मित दवाईयों के निर्यात के लिए जाली दस्तावेज तैयार करके प्रतिबन्धित दवाओं के तस्करी का मामला पाए जाने पर उक्त फार्मा कम्पनी UNIQUE FORMULATIONS के मालिक/मालिको के विरूद्ध ND&PS Act एवं धारा 420, 467, 468, 471, 120B IPC के अन्तर्गत मामला दर्ज कर के अन्वेषण किया जा रहा हैं। मामले की संवेदनशीलता को मध्यनजर रखते हुए मामले में अन्वेषण हेतू श्री बीर बहादुर, उपमण्ड़ल पुलिस अधिकारी, पांवटा साहिब की अध्यक्षता में विशेष अन्वेषण दल का गठन किया जा रहा हैं।