शहीद शेर सिंह की पूण्यतिथि पर अर्पित किए श्रद्धासुमन

Local News पॉवटा साहिब शिलाई हमारे बारे में हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पांवटा साहिब

अमर शहीद के पैतृक गांव सूरजपुर स्थित शहीद स्मारक पर प्रातः 09:30 बजे भूतपूर्व सैनिक संगठन पांवटा साहिब व शिलाई क्षेत्र तथा परिवार के सदस्यों ने कोरोना महामारी के संकट की इस विकट घड़ी में भी सरकार व प्रशासन द्वारा जारी कोरोना गाईडलाइन का पालन करते हुए अमर शहीद शेर सिंह, के स्मारक स्थल सुरजपुर पहुंचकर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर उपस्थित सभी लोग मास्क पहने थे तथा सभी ने व्यक्तिगत दूरी का भी ख्याल रखा। इससे पूर्व परिवार के सदस्यों ने शहीद स्मारक स्थल पर पूजा व यज्ञ करवाया।

संगठन के सचिव नरेंद्र सिंह ठुंडू ने शहीद शेर सिंह के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। शहीद शेर सिंह 14वीं बटालियन जम्मू व कश्मीर राईफल्स रेजिमेंट के अंतर्गत ऑपरेशन रक्षक में 28 राष्ट्रीय राईफल के अधीन कश्मीर में तैनात थे। 27 मई 2003 को शेर सिंह पाकिस्तानी घुसपैठियों से लोहा लेते हुए वीरगति को प्राप्त हुए। उन्हें उनके अदम्य साहस व बहादुरी के लिए हमेशा याद रखा जाएगा।

वर्तमान में शहीद शेर सिंह के परिवार में उनकी माता सत्या देवी, धर्मपत्नी श्रीमती वीना व पुत्र पंकज और पुत्री रश्मि हैं। परिवार, गांव व क्षेत्र के सभी लोगों को शेर सिंह के बलिदान पर गर्व है। ऑपरेशन रक्षक में भारत माता की सीमाओं की रक्षा के लिए दिए गए उनके सर्वोच्च बलिदान को देश हमेशा याद रखेगा।

इस मौके पर शहीद शेर सिंह की माता सत्या देवी, धर्मपत्नी श्रीमती वीना व पुत्र पंकज और पुत्री रश्मि तथा भूतपूर्व सैनिक संगठन पाँवटा-शिलाई से सचिव नरेन्द्र सिंह, मीडिया प्रभारी स्वर्णजीत सिंह, दीपू ठुंडू तथा तिरुपति फार्मा से प्लांट एमडी एवं एचआर जगदीश चंद व गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। उपस्थित सभी लोगों ने शहीद शेर सिंह के स्मृति स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें याद किया।