सामाजिक कार्यकर्ता समीर शर्मा की हार्ट अटेक से मौत

Local News पॉवटा साहिब स्वास्थ्य हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पांवटा साहिब

पांवटा साहिब की प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता समीर शर्मा का निधन हो गया हैं। सोमवार सुबह देहरादून के अस्पताल मे उन्होंने अंतिम सांस ली। उनकी मौत का कारण हार्ट अटेक बताया जा रहा है।

बता दें कि सामाजिक कार्यकर्ता समीर शर्मा का स्वभाव बहुत ही भावुक व सरल था। वह एक औऱ जहां अधिकारों की लड़ाई के लिए आवाज उठाती थी। वही शहर के हर धार्मिक व सामाजिक कार्यो में बढ़चढ़ कर भाग लेती थी।

बता दें कि शहर के वार्ड नंबर-9 के मद्रासी कॉलोनी के लोगों के लिए कॉलोनी मे बनें सार्वजनिक शौचालय बनाने में उनका बहुत बड़ा योगदान है। उन्होने कई मर्तबा मीडिया के माध्यम से कॉलोनी के महिलाओं व जरूरतमंदों की समस्याओं को प्रशासन के समक्ष लाया।

बताया जा रहा है कि वह 58 वर्ष की आयु तक भी समीर शर्मा धार्मिक व सामाजिक कार्यो के लिए पूरा समय देती रही। वह समाज में महिला उत्पीड़न, भ्रण हत्या व बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ व स्वच्छता के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाती रही।

वह पिछले करीब डेढ़ वर्ष से गंभीर बीमारी से जूझ रही थी। जिस दौरान उन्हें देहरादून के अस्पताल में हार्ट अटेक आया और उनकी मौत हो गई। उनकी मौत की खबर सुनकर शहर के कई चिर परिचित सदमे मे है व शहर में शौक की लहर हैं।

समीर शर्मा ने सिरमौर के विभिन्न समाजसेवियों के साथ कार्य किया , सिरमौर विचार मंच , सिरमौर उपभोक्ता संरक्षण समिति में उन्होंने अपना बहुमूल्य सहयोग व योगदान दिया। समीर शर्मा के अंदर समाजसेवा का ऐसा जज्बा था कि वो उस समय इस क्षेत्र में कार्य कर रही थी जब बहुत कम महिलाएं समाजसेवा के लिए आगे आती थी । सिरमौर विचार मंच , सिरमौर उपभोक्ता संरक्षण समिति व सिरमौर न्यूज़ समीर शर्मा के सहयोग का सदैव ऋणी रहेगा व ईश्वर से कामना करते है कि दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे।