दयाल प्यारी की पेराशूटी एंट्री से मचा कोहराम, पच्छाद कांग्रेस ने शिमला में जताया विरोध

Local News कांग्रेस पच्छाद पॉवटा साहिब भाजपा सरकार हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/शिमला

दिल्ली हाईकमान दरवार में पेराशूटी एंट्री कर भाजपा से निष्कासित दयाल प्यारी की कांग्रेस में एंट्री से कोहराम मच गया हैं।

आज शिमला कांग्रेस पार्टी मुख्यालय में अपनी नाराजगी जताने के लिए पच्छाद के वरिष्ठ नेता गंगूराम मुसाफ़िर सहित जिला सिरमौर का एक दल पार्टी अध्य्क्ष से मिलने पहुंचा। जहां उन्होंने दयाल प्यारी की पेराशूटी एंट्री पर कड़ा विरोध जताया हैं।

पच्छाद कांग्रेस ने प्रदेश पार्टी प्रमुख को दो टूक शब्दों में कह डाला की ग्रासरूट कार्यकर्ता की अनदेखी सहन नही होगी।

पच्छाद कांग्रेस मण्डल अध्यक्ष बेली राम शर्मा, पूर्व मण्डल अध्यक्ष व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता देवेंद्र शास्त्री व सिरमौर सिंह के नेतृत्व में प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौड़ को कहा कि जिस पैराशूटी तरीके से कांग्रेस में एंट्री हुई है उसका हम सब विरोध करते हैं।

बता दें कि जिला सिरमौर व पच्छाद क्षेत्र से करीब 300 पार्टी कार्यकर्ता शिमला कांग्रेस पार्टी मुख्यालय अपनी नाराजगी जताने पार्टी प्रमुख कुलदीप राठौड़ से मिलने पहुंचा। पच्छाद काँग्रेस ने यहां तक कह दिया है कि यदि पच्छाद के कद्दावर नेता जीआर मुसाफिर की अनदेखी हुई, तो सभी पार्टी से सामूहिक रिजाइन देंगे । जिसके लिये कांग्रेस कमान जिम्मेदार होगी।

उन्होंने कहा कि बाहर से लोग पार्टी से जुड़े इससे पार्टी का परिवार बढता है। लेकिन हाइकमान का यह तरीका बिल्कुल बर्दास्त से बाहर है कि वह ग्रासरूट के कार्यकर्ताओ को बिना पूछे किसी को भी पार्टी में शामिल करें। इस दौरान जिला अध्य्क्ष अजय बहादुर, वरिष्ठ नेता किरनेश जंग आदि भी मौजूद थे।

मण्डल अध्यक्ष बेलीराम शर्मा ने बताया कि मण्डल कार्यकर्ताओं ने अपनी बात व नाराजगी प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष रखी। जिस पर प्रदेश अध्यक्ष ने माना कि आगे से ऐसा नही होगा।