कमल छोड़ दयाल प्यारी ने थामा कांग्रेस का हाथ

Local News कांग्रेस चुनाव पच्छाद पॉवटा साहिब भाजपा हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पॉंवटा साहिब

नगर निगम चुनावों के बीच प्रदेश भाजपा को झटका लगा है। युवा तेजतर्रार नेत्री दयाल प्यारी ने आज दिल्ली मुख्यालय में कांग्रेस का हाथ थामा है। इस दौरान कांग्रेस पार्टी के प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला व पवन बंसल भी मौजूद रहे।

बता दे कि दयाल प्यारी के कांग्रेस में जाने बाद अब राजनीतिक समीकरण बदलने लाजमी हैं। एक और भाजपा को जिला सिरमौर के पच्छाद विधानसभा क्षेत्र में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है, वहीं कांग्रेस में भी समीकरण बदलने तय है।

अब अगर बात भाजपा की करे तो प्रदेशाध्यक्ष पच्छाद सुरेश कश्यप व युवा विधायिका रीना कश्यप के लिये अब राह आसान नहीं हैं। पार्टी मुख्या होने की वजह से सुरेश कश्यप के लिए यह सीट प्रतिष्ठा का सवाल होगी।

बता दे कि गत विधानसभा के उप चुनाव भाजपा से बगावत करने के बाद दयाल प्यारी ने निर्दलीय चुनाव लड़ा था। जिसमें भाजपा प्रत्याशी रीना कश्यप से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गंगूराम मुसाफिर को भी हार का सामना करना पड़ा था।

दयाल प्यारी को इस चुनाव में तीसरे स्थान पर रहना पड़ा था। लेकिन अकेले अपने दम पर भारी भरकम समर्थन जुटाकर दयाल प्यारी ने अपना प्रभाव साफ तौर पर दिखा दिया था।

गौरतलब हो कि लंबे समय से उनके कांग्रेस में जाने के क्यास लगाए जा रहे थे। जो आज कांग्रेस मुख्यालय दिल्ली में हकीकत में बदल गए हैं। उनके कांग्रेस में जाने बाद पच्छाद की राजनीतिक आंकलन भी लोग तरह तरह से करने लगे हैं।

इस बारे में युवा नेत्री दयाल प्यारी ने बताया कि वह भाजपा से पहले ही निष्काषित थी। कांग्रेस मुख्यालय दिल्ली से उन्हें फ़ोन आया व उन्होंने बिना शर्तो के पार्टी जॉइन की हैं। वह पार्टी हाई कमान के निर्देश पर कार्य करती रहेंगी।