तिलोरधार में विकासखंड कार्यालय खोलने की जल्द घोषणा करे सरकार

Local News कमरऊ हिमाचल

सिरमौर न्यूज/कमरऊ

कमरऊ पंचायत का तिलोरधार क्षेत्र की 23 पंचायतों का केंद्र बिंदु है और यहां विकासखंड कार्यालय खोलने को 21 पंचायतें सरकार को प्रस्ताव भेज चुकी हैं। विकासखंड कार्यालय के लिए जमीन का चयन भी हो चुका है। कार्यालय खोलने के लिए चयनित अधिकतर जमीन की रजिस्ट्री भी हो चुकी है। लिहाजा यहां जल्द से जल्द विकासखंड कार्यालय खोलने की मांग को लेकर विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधी लामबंद हुए।
कमरऊ मां ठारी देवी मंदिर में आयोजित हुई बैठक कमरऊ के अलावा बडवास, शमाह पमता, बोहल बल्दवा और सतोन पंचायत के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। सभी ने एकमत से तिलोरधार में जल्द विकासखंड कार्यालय खोलने की मांग उठाई। कमरऊ पंचायत के पूर्व प्रधान खत्री सिंह और बहादुर सिंह ने बताया कि 1984 से कमरऊ में विकासखंड कार्यालय खोलने की मांग उठ है और हर सरकार ने मांग का समर्थन भी किया है। कमरऊ पंचायत के प्रधान मोहन ठाकुर, बोहल बल्दवा पंचायत प्रधान नरेश बीडीसी सदस्य प्रताप ठाकुर सहित बडवास, शमाह पमता, बोहल बल्दवा और सतोन पंचायत के प्रतिनिधियों ने बताया कि तिलोरधार में विकासखंड कार्यालय खोलने के लिए बहुत सी औपचारिकता भी पूरी हो चुकी है। कार्यालय के लिए जमीन विभागों की अनुमति के बाद चयनित की जान चुकी है। अधिकतर जमीन की रजिस्ट्री भी हो चुकी है। पंचायत प्रतिनिधियों ने कहा कि तिलोरधार में विकासखंड कार्यालय खोलने के लिए महज घोषणा की औपचारिकता बाकी रह गई है। उन्होंने कहा कि तिलोरधार क्षेत्र की 23 पंचायतों का केंद्र बिंदु है और सभी पंचायत यहां विकासखंड कार्यालय खोलने को प्रस्ताव भी सरकार को दे चुकी है। बैठक में उपस्थित उप प्रधान सुरेश शर्मा, रतन ठाकुर, सिंघा राम शर्मा खजान सिंह शर्मा, मोहन सिंह, मुंशी राम, रामकृष्ण शर्मा,संतराम, बलवीर शर्मा
प्रताप सिंह ठाकुर, सुरेश कुमार, प्रेम ठाकुर, चंद्र मोहन, रघुबीर ठाकुर, सुमेर चंद, सुरेंदर सिंह ,अनिल तोमर, दलीप तोमर,पूर्ण चंद, महेंद्र सिंह,सीता राम, शांति राम, खत्री राम, गुमान सिंह,जय सिंह, पूर्ण चंद, सोहन सिंह, सुरेंदर सिंह, चतर सिंह, रमेश चंद, सोभा राम शर्मा, चुही राम शर्मा, टिका राम शर्मा, आत्मा राम शर्मा, दीप चंद शर्मा आदि ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया कि सरकार तिल और धार में विकासखंड कार्यालय की जल्द घोषणा करें और बची हुई औपचारिकताऐं पूरी करवाकर लोगों को हो रही असुविधा का निराकरण करें।