आत्मा परियोजना के अंतर्गत कृषि विभाग शिलाई के सौजन्य से आयोजित हुई गोष्ठी

Local News कृषि शिलाई हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / शिलाई

गिरिपार क्षेत्र के शिलाई में कृषि गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें कृषि, बागवानी सहित पशुपालन विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे, जिन्होंने अपने अपने विभाग से सम्बंधित विस्तृत जानकारी दी।

आत्मा परियोजना के अंतर्गत कृषि विभाग शिलाई के सौजन्य से बुधवार को आयोजित गोष्ठी में क्षेत्र के लगभग 150 प्रगतिशील किसान-बागवान व पशुपालक उपस्थित रहें।

इस दौरान परियोजना निदेशक नाहन डॉ. संतोष कुमार गुप्ता ने बताया कि अब समय आ गया है जब प्रगतिशील किसानों को प्राकृतिक खेती की ओर जाना चाहिए। जिससे कम लागत में अच्छा मुनाफा व स्वास्थ्य वर्धक खाद्य पदार्थ तैयार किये जा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि शिलाई क्षेत्र के कुछ किसान प्राकृतिक खेती से दूसरों के लिए प्रेरणास्रोत बने हैं, जिन्होंने कम समय में ही खेती की तकनीक को बदला है और आज वो दूसरों को भी प्रेरित कर रहे हैं।

इस दौरान पशुपालन विभाग से वरिष्ठ डॉ. ललित अजमानी ने पशुओं के रखरखाव, खानपान, बीमारी व सुविधाओं के बारे में विस्तृत रूप से बताया। उन्होंने कहा कि पशुपालकों को अपने दुग्दधारी पशुओं की मौसम बदलने के साथ साथ उचित देखरेख करनी चाहिए। यदि किसी पशु को किसी तरह का भी कोई रोग हो जाये, तो तुरंत डॉ. की परामर्श के साथ दवाई देनी चाहिए।

कृषि विष्यवाद विशेषज्ञ रॉयनाथ चौधरी ने बताया कि सरकार व कृषि विभाग किसानों को उचित मुनाफा दिलाने के लिए कई तरह की योजनाएं शुरू की हुई हैं। यदि किसी किसान को प्राकृतिक खेती के संदर्भ में कभी भी जानकारी चाहिए तो वो विभाग से सम्पर्क कर सकता हैं। उसे हर तरह की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।

इस दौरान उद्यान विभाग के चमेल सिंग, कृषि विभाग से अश्वनी कुमार, एईओ प्रदीप कौशल, सुनिधि शर्मा, दीपक कपूर, सौरभ, नितेश ठाकुर आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किये।