प्रशांत ठाकुर अमर रहे के नारों के साथ शहीद जवान पंचतत्व मे विलीन

Local News पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

जम्मू-कश्मीर के बारामुला में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए जवान प्रशांत ठाकुर का आज उनके पैतृक गांव में अंतिम संस्कार हुआ , शहीद की अंतिम विदाई के शोक में पूरा क्षेत्र डूबा रहा। शहीद की अंतिम यात्रा में भरी संख्या में लोग अंतिम विदाई देने पहुंचे।


सिरमौर के धारटीधार इलाके की भनेत हल्दवाड़ी पंचायत के ठाकर-गुआना गांव के प्रशांत सिंह ठाकुर सेना की 18 ग्रेनेडियर्स बटालियन में तैनात थे। वर्तमान में हुए 29 राष्ट्रीय राईफल में घाटी में तैनात थे। 18 अगस्त को आतंकवादियों से लोहा लेते हुए मुठभेड़ के दौरान प्रशांत को गोली लगी और वह शहीद हो गये। खराब मौसम के चलते शहीद का पार्थिव शरीर 19 अगस्त शाम को देहरादून पहुंचा। उसके उपरांत 20 अगस्त को प्रातः 12:00 बजे हिमाचल आगमन पर यमुना नदी के किनारे अग्रसेन द्वार पर भूतपूर्व सैनिक संगठन पांवटा साहिब व शिलाई क्षेत्र नए स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर पुष्पांजलि अर्पित की। उसके बाद संगठन ने गाड़ियों के काफिले को पैतृक गांव की तरफ रवाना किया। काफिला धौला कुआं होते हुए 2:00 बजे गवाना पहुंचा। रास्ते में कई स्थानों पर लोगों ने पुष्प वर्षा की। प्रशांत के पिता सुरजन सिंह, माता रेखा देवी तथा भाई विशाल ठाकुर शहीद के पार्थिव देह को देखकर बिलखते – चिल्लाते हुए अपने वीर सपूत को याद किया। गांव तथा पूरे इलाके में शोक की लहर है। शहीद के छोटे भाई विशाल ठाकुर ने पवित्र देह को मुखाग्नि दी। उपस्थित सभी लोगों ने भारत माता की जय शहीद प्रशांत अमर रहे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए।
ऑपरेशन के दौरान प्रशांत ठाकुर ने जब आंतकवादियों से खुद को घिरा पाया तो उन्होंने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जिसमें कई आतंकवादियों के मारे जाने की भी खबर है। प्रशांत की आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से मौत हो गई। शहीद के परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा को शांति के लिए भगवान से प्रार्थना की। उन्होंने कहा कि देश के लिए प्रशांत ने का बलिदान हमेशा याद रखा जाएगा।
इस समय मुख्यता पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व् नाहन के विधायक डॉ. राजीव बिंदल ,रेणुका विधायक विनय कुमार , डीसी सिरमौर, एसपी सिरमौर, एसडीएम पांवटा , एसडीएम नाहन , भूतपूर्व सैनिक संगठन से एसपी खेड़ा , वीरेंद्र सिंह चौहान अध्यक्ष, दर्शन सिंह उपाध्यक्ष, नरेंद्र सिंह ठुंडू सचिव, मोहन सिंह सह सचिव, दिनेश कुमार, स्वर्ण जीत, संगत सिंह, सोशल मीडिया प्रभारी, इसके अलावा बाबूराम, संतराम, खजान सिंह शर्मा, दीपू ठुंडू व अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।