नाहन उप निदेशक उच्च शिक्षा कार्यालय में बरपा हंगामा

Local News नाहन राजनीति सरकार हिमाचल

पूर्व सीपीएस विनय कुमार की अगुवाई में किया गया अधिकारी के कार्यालय का घेराव,

सिरमौर न्यूज़ – नाहन

जिला उप निदेशक उच्च शिक्षा कार्यालय नहान में उस समय जमकर हंगामा बरपा जब कांग्रेसी विधायक की अगुवाई में अधिकारी का घेराव किया गया।
कांग्रेस विधायक विनय कुमार का आरोप है कि सरकारी अधिकारी बीजेपी के एजेंट बनकर काम कर रहे हैं दरअसल यहां शिक्षा अधिकारी द्वारा एक विधवा महिला का तबादला आदेश पिछले कई दिनों से रोका जा रहा था जिस पर विधायक कुमार भड़क गए और समर्थकों सहित अधिकारी के कार्यालय में पहुंच गए।विनय कुमार ने समर्थकों सहित यहां जमकर नारेबाजी भी की। विनय कुमार ने बताया कि बीजेपी नेताओं के कहने पर अधिकारी ने तबादला आदेश रोके हुए हैं वहीं उन्होंने कहा कि यहां नियमों की सरेआम धज्जियां विभागों द्वारा उड़ाई जा रही है
यहां तक कि मुख्यमंत्री के आदेशों की भी अवहेलना हो रही है।
विनय कुमार ने हैरानी जताई कि विधवा महिला के तबादला आदेश पर नेता ही नहीं अधिकारी
भी खुलकर राजनीति कर रहे है।उन्होंने कहा कि बार-बार महिला के बेटे को यहां बुलाकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है बावजूद कि उसे तबादला आदेश दिए जाए।
विधवा महिला के बेटे ने बताया कि वह पिछले पांच दिनों से लगातार अधिकारी के कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं और बार-बार यह कहा जाता है कि तबादला आदेश दे दिए जाएंगे मगर अभी तक कोई तबादला आदेश नहीं दिए गए और आज यह कहा जा रहा है कि आदेशों को वापिस शिमला मुख्यालय भेजा गया है।
वही इस बारे में उप निदेशक उच्च शिक्षा दिलवर जीत चन्द्र ने कहा कि उनके पास एक और तबादला आदेश इसी स्कूल के लिए आए हैं लिहाजा उन्होंने दोनों आदेश वापिस मुख्यालय को भेज दिए हैं
मगर सवाल इस बात पर खड़े हो रहे है कि 20 दिसंबर को आए महिला के तबादला आदेश क्यों जारी नहीं हुए क्योंकि दूसरे तबादला आदेश तो 31 दिसंबर को ही कार्यालय में पहुंचे थे।इस पर अधिकारी से जो पूछा गया तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए ।

कुल मिलाकर जिला उप निदेशक उच्च शिक्षा अधिकारी कार्यालय विवादों में आ गया है। देखना होगा कि मामला आगे क्या रुख लेता है क्योंकि कांग्रेस विधायक ने साफ कर दिया है कि विधवा महिला के आदेश नहीं हुए तो कांग्रेस चुप नहीं बैठेंगी।