विधायक के कोरे आश्वासन से जनता परेशान,विकास कार्यों की छोड़ी उम्मीद

Local News पॉवटा साहिब समस्या स्वछता हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ , पांवटा साहिब

पांवटा साहिब के वार्ड नंबर 10 की जनता ने स्थानीय विधायक से विकास कार्यों की उम्मीद लगाना छोड़ दी है। झूठे आश्वासनों से तंग आकर अब जानता ने अपनी समस्याओं का जिक्र तक करना छोड़ दिया है। लोगो का आरोप है की जब उनकी कोई सुनता ही नहीं तो वे समस्या के बारे में किसी से शिकायत कर क्या करेंगे।


पांवटा साहिब के वार्ड नंबर 10 की जनता को दशकों से अनदेखी का शिकार होना पड़ रहा है। न तो वार्ड मेंबर जनता का दुःख दर्द देखने आती है और न ही स्थानीय नेता उनकी समस्या का समाधान करवा पाए है। जिस समस्या से लोग कई वर्षो से जूझ रहे है आज भी वो समस्या उनके सामने खड़ी है। लोकसभा चुनाव के दौरान वोट के लिए जनता को ठगा गया , चुनाव के बाद जनता ने फिर से विधायक के समक्ष समस्या रखी तो उन्हें एक महीने के अंदर समाधान करने का लॉलीपॉप थमा कर विधायक जी अपना वायदा ही भूल गए।
दरसल वार्ड नंबर 10 में न तो गंदे पानी की निकासी के लिए कोई समाधान किया गया है और न ही बिजली की तारो के फैले जाल को सही किया गया। कई बार लोग करंट की चपेट में आ चुके है , गंदे पानी की वजह से बच्चे व् महिलाएं अज्ञात चर्म रोग से ग्रसित है , कुछ को सांस सम्बन्धी बीमारी ने जकड लिया है। जब लोगो की समस्या किसी भी नेता ने नहीं सुनी तो उन्होंने लोकसभा चुनाव का वहिष्कार करने का निर्णय ले लिया था । घरों के आगे पोस्टर लागए गए थे ” विकास नहीं तो वोट नहीं ” लेकिन बीजेपी विधायक को इसकी भनक लगी और नेता जी एक दिन के लिए वार्ड में लोगो को मनाने में जुट गए। चुनाव के तुरंत बाद समस्या का समाधान का आश्वासन दिया, जनता बहकावे में आ गई और उन्होंने अपने वार्ड से बीजेपी प्रत्याशी को रिकार्ड तोड़ मत दिए।
चुनाव भी ख़त्म हुए लेकिन जनता की समस्या का समाधान नहीं हुआ , जब जनता ने फिर से आवाज उठाई तो विधायक मोहदय ने एक महीने के अंदर समस्या का समाधान करने का आश्वासन दिया लेकिन , दूसरी बार भी विधायक का आश्वासन मात्र कोरी घोषणा बन कर रह गया। जनता खुद को अब ठगा सा महसूस कर रही है , अब जनता ने विधायक से विकास कार्यों की उम्मीद लगाने छोड़ दी है। सभी वार्डवासी अब राम भरोसे है, जिस हाल में इस वार्ड के लोग जी रहे थे अब उन्होंने इसकी आदत डाल दी है।

विधायक के आदेशों को अधिकारी भी नहीं ले रहे गंभीरता से

लगभग एक महीने पहले स्थानीय विधायक ने मीडिया के सामने ही बिजली की तारों की समस्या के समाधान को लेकर बिजली विभाग के अधिकारी को फोन कर इस समस्या के समाधान के आदेश दिए लेकिन आज तक बिजली कर्मचारी तक लोगो की समस्या के समाधान के लिए वार्ड में दाखिल नहीं हुआ। इसके अतिरिक्त गंदे पानी की निकासी को लेकर विधायक जी सम्बंधित अधिकारीयों और ठेकेदार से वार्तालाप कर चुके है फिर भी कोई समाधान नहीं हुआ। ऐसे में लगता है की पांवटा साहिब के अधिकारी विधायक महोदय के आदेशों को गंभीरता से नहीं ले रहे है जिसका खामियाज भविष्य में विधायक जी को भुगतना पड़ सकता है।