पांवटा के निजी शिक्षण संस्थान पर लगे फर्जी डिग्रियां बाँटने के संगीन आरोप

Local News पॉवटा साहिब लेटेस्ट न्यूज़ हिमाचल

एसडीएम पांवटा ने पुलिस को दिए गहन जांच के आदेश

सिरमौर न्यूज़

एक निजी शिक्षण संस्थान पर फर्जी डिग्रियां बांटने के संगीन आरोप लगे हैं। छात्र-छात्राओं द्वारा एसडीएम पांवटा को दी गई शिकायत बाद पुलिस ने इस कथित फर्जीवाड़े में जांच शुरू कर दी है।
निजी शिक्षण संस्थान के छात्र अंकित कुमार, अंजू, अनिल व अमित कुमार ने बताया कि पांवटा साहिब के एक निजी शिक्षण संस्थान की ब्रांच सतौन के तहत वर्ष 2016-17 में डीएमसीए, पीजीडीसीए कंप्यूटर डिप्लोमा किया था। जिसके बाद 2017 में उसकी परिक्षाएं हुई। लेकिन निजी शिक्षण ने बच्चों के डिप्लोमा नहीं दिये। जिसके बाद 2 जुलाई 2018 में बच्चों ने एसडीएम को शिकायत दी।

एसडीएम ने पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिये थे, लेकिन निजी शिक्षण संस्थान ने उस समय बच्चों के डिप्लोमा दे दिये व मार्कशीट एक महिने में देने का वायदा किया। लेकिन एक साल बित जाने पर भी मार्कशीट नहीं दी गई।

छात्रों का कहना है कि जब मार्कशीट ही नहीं मिली तो डिप्लोमा कहां से आ गये… ? जिससे डिप्लोमा फर्जी होने का संदेह है। इस बारे में निजी शिक्षण संस्थान के खिलाफ कारवाई करने के लिए शिकायत एसडीएम को सौंपी है। शिकायत मिलते ही एसडीएम एलआर वर्मा ने पुलिस को कारवाई करने के आदेश दिये है।

उधर पांवटा साहिब के एसडीएम एलआर वर्मा ने पूछे जाने पर बताया कि एक निजी शिक्षण संस्थान के खिलाफ शिकायत मिली है। इस मामले में पुलिस को कारवाई करने को कहा गया है।