रक्तदान एक महादान, रक्तदान से मिलता है पीड़ित व्यक्ति को जीवनदान – डॉ. बिंदल

Local News नाहन

10 लाख 40 हजार यूनिट रक्त प्रदान करने वाली देश की अग्रणी संस्था है निरंकारी मिश्न

सिरमौर न्यूज़

रक्तदान एक महादान है, जिससे किसी भी पीड़ित व्यक्ति को जीवनदान मिल सकता है और सभी लोगों को स्वैच्छा से रक्तदान करना चाहिए। जोकि मानव सेवा के प्रति एक पुनीत कार्य है।
यह बात विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने रविवार को संत निरकांरी चैरिटेबल फाऊंडेशन के चण्डीगढ़ जोन द्वारा नाहन के चौहान बाग मेें स्थित निंरकारी भवन में आयोजित छठे रक्तदान शिविर का विधिवत शुभारंभ करने के उपरांत उपस्थित जन समूह को संबोधित करते हुए कही। उन्होने कहा कि रक्त वह अमूल्य सम्पति है, जिसका चिकित्सा विज्ञान में कोई विकल्प नहीं है, यह केवल मनुष्य शरीर में ही संभव है।
डॉ. बिंदल ने कहा कि संत निरंकारी मिश्न द्वारा मानव कल्याण के लिए अनेक समाजिक कार्य किए जा रहे है। जिससे समाज में एक आपसी भाईचारा, पारस्परिक सहयोग, प्रेम और सदभावना का संदेश पहुंच रहा है। उन्होने कहा कि संत निरंकारी मिश्न द्वारा वर्ष 1984 से लेकर अब तक विभिन्न शिविरों के माध्यम से 10.40 लाख यूनिट रक्त एकत्रित करके देश में एक अनूठी मिसाल कायम की है।
उन्होंने कहा कि एक यूनिट रक्त से तीन व्यक्तियों की जान बचाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि एक यूनिट रक्त के तत्वों को अलग-अलग करके तीन व्यक्तियों को दिया जा सकता है। वर्तमान समय में दुर्घटनाओं में घायल व्यक्तियों या किसी बिमारी से ग्रस्त लोगों को रक्त की आवश्यकता रहती है। उन्होंने लोगों से आहवान किया कि रक्तदान कर लोगों की जिन्दगी बचाने में अपना महत्वपूर्ण सहयोग दे।

जिला भाजपा अध्यक्ष विनय गुप्ता ने भी कहा कि जिस प्रकार संत निरंकारी मिश्न के सभी अनुयायी समाज सेवा के लिए समर्पित है। वह एक अनूठी मिसाल है, जिससे हर व्यक्ति को प्रेरणा लेनी चाहिए ।
इससे पहले संत निरंकारी मिशन के जोनल प्रभारी केके कश्यप ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और संत निंरकारी मिशन द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न समाजिक कार्यो बारे जानकारी दी। उन्होने बताया कि मिशन द्वारा शीघ्र ही सिरमौर जिला के दूरदराज क्षेत्र शिलाई में भी रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा, ताकि स्वैच्छा से रक्तदान की भावना ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में भी उत्पन्न हो सके।
इस अवसर पर चिकित्सा अधीक्षक मेडिकल कॉलेज नाहन डॉ. डीडी शर्मा, डॉ. निशी जस्वाल, डॉ. पायल आईजीएमसी शिमला, संत निरंकारी मिशन की संयोजक कौशल्या अग्रवाल, संचालक एसएल बस्सी, विकास अग्रवाल, सीया राम, सतप्रकाश, सड़क सुरक्षा के अध्यक्ष विशाल तोमर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपसथित थे।