यमुना पुल पर से नदी में गिरा युवक, घुप अंधेर में पेश आया जानलेवा हादसा टूटी टांग

पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

शनिवार सुबह पांवटा साहिब के यमुना पुल से नदी में गिरे एक व्यक्ति को रेस्क्यू कर सिविल अस्पताल पहुंचाया गया जहां से उसे इलाज के लिए हायर हेल्थ सेंटर रेफर किया गया ।

मिली जानकारी के अनुसार अमन निवासी देवी नगर देर रात यमुना नदी के पुल से गुजर रहा था कि तभी एक हादसे में वह पुल से तकरीबन 20 से 25 मीटर नीचे नदी में जा गिरा। जिसके बाद वह काफी देर तक चिल्लाता रहा लेकिन वहां अंधेरे में किसी ने भी उसकी आवाज़ नहीं सुनी सूबह तकरीबन 6 बजे जब रोटरी क्लब के सदस्य नरेंद्र पाल सिंह, सुमेश वर्मा, गुरप्रीत व अरविंद मरवाह यमुना पाथ पर सुबह की सैर के लिए गए तो उन्होंने देखा कि सामने नदी में एक व्यक्ति पड़ा हुआ है, जिसके बाद उन्होंने स्थानीय पुलिस व एंबुलेंस को यमुना में पड़े हुए व्यक्ति की स्थिति से अवगत करवाया। इतना ही नहीं उन्होंने रस्सी और बोतल की मदद से उसे दूध भी मुहैया करवाया।

वही इस रेस्क्यू ऑपरेशन में गोताखोर शुभम कश्यप और शिवा ने भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की उन्होंने सुरक्षा और एहतियात बरतते हुए इस युवक को अपने बोट के माध्यम से नदी पार करवा कर एंबुलेंस तक पहुंचाया।
इस बारे में एसडीएम पांवटा ने बताया कि जैसे ही उन्हें इस मामले की जानकारी मिली तुरंत पुलिस एम्बुलेंस की मदद से घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाया गया है।

यमुना पुल पर अंधेरा राहगीरों की जान डाल रहा है जोखिम में ।

यमुना पुल पर हमेशा अँधेरा पसरा रहता है। कई वर्ष बीत चुके है सभी लाइटें बंद पड़ी हैं। यहां रात के समय राहगीरों को भारी परेशानी झेलनी पड़ती है। इससे पहले भी यहां कई हादसे हो चुके हैं । हालांकि ब्रिज से अब भी सरकार को करोड़ो की कमाई हो रही है । हर साल करोड़ों रुपए आय के रूप में कमाता है वहीं नेशनल हाईवे होने की वजह से यहां पर अक्सर काफी भीड़ रहती है । बंद लाइटों को लेकर कई वर्षों बाद भी ना तो नेशनल हाईवे ने कोई संज्ञान लिया और ना ही पीडब्ल्यूडी ने।