नशे के लिए भगवान को बेचने निकला था एक नशेडी

पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

हिमाचल के प्रवेश द्वार पांवटा साहिब में युवा पीढ़ी नशे की दलदल में फंसती ही जा रही है। नशा खरीदने के लिए युवक आपराधिक गतिविधियों में भी संलिप्त हो रहे है। कुछ युवाओं पर नशा इस कदर हावी हो रहा है की अब वे नशे के लिए भगवान् को भी नहीं छोड़ रहे है। एक ऐसा ही ताज़ा मामला सामने आया है पांवटा साहिब के मतरालियों स्थित एक मंदिर में एक 20 वर्षीय नशेड़ी युवक ने नशे की लत पूरी करने के लिए भगवान की मूर्तियां तथा घंटियां ही चोरी कर डाली। प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती रात को मंदिर के पुजारी बस्ती राम शर्मा मंदिर को बंद करके ताला लगाकर घर चले गए उसके बाद एक युवक ने रात के समय में मंदिर का ताला तोड़कर मंदिर में प्रवेश करके अष्टधातु की गणेश और लक्ष्मी जी की 2 मूर्तियां और एक छत से लटक रहे घन्टी को चुरा लिया। शनिवार सुबह 5 बजे जब मंदिर केे पुजारी पूजा के लिए मंदिर खोलने पहुँचे तो उन्होंने देखा कि मंदिर के ताले टूटे पड़े हैं। इसके बाद पुजारी ने आसपास के लोगों को सूचना दी और पुलिस चौकी में जाकर मामले की शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत के बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए 10 बजे के करीब स्थानीय लोगों की मदद से आरोपी नशेडी चोर युवक को धर दबोचा। और उससे मूर्तियां और घंटियां बरामद कर ली। युवक की पहचान 20 वर्षीय विकास पुत्र सुनील पाल निवासी धौलाकुआं के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि नशेडी युवक चोरी की गई मूर्तियां बेचने के लिए सूरजपुर के एक कबाडी के पास गया था जिसकी सूचना किसी ने पुलिस को दे दी। पुलिस टीम मौके पर रवाना हुई और आरोपी को पकड़ा गया , मंदिर के पुजारी ने बरामद मूर्तियों व् घंटियों की शिनाख्त की जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। आरोपी की शिनाख्त परेड करवाई जा रही है उसे अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेगी जिसके बाद चोरियों के अन्य राजों से भी पर्दा उठ सकता है।