सीटू ने सरकार की ठेकाकरण नीति पर उठाये सवाल

पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

बीते मंगलवार को माजरा के पास हाईटेंशन 11 केवी लाइन पर काम करते हुए मजदूर की मौत मामले पर सीटू (सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियंस ) ने सरकार की ठेका करण नीति पर सवाल खड़े किए हैं। यूनियन के महासचिव राजेंद्र ठाकुर सहित सीटू के राज्य सचिव राजेंद्र ठाकुर किसान सभा राज्य उपाध्यक्ष विश्वनाथ किसान सभा जिला महासचिव गुरविंदर सिंह महिला समिति की जिला सचिव अमिता चौहान समिति की खंड सचिव मीनू ने संयुक्त प्रेस बयान जारी करते हुए बताया कि सरकार की टीकाकरण नीति का एक और गलत नतीजा बीते कल माजरा के पास हाईटेंशन 11 केवी लाइन पर काम करते हुए नौजवान मजदूर की हुई मौत से सामने आया है उन्होंने बताया कि जिला सिरमौर में बीते दिनों में ही है बड़ी लापरवाही का तीसरा घटनाक्रम है सरकार की इस नीति पर सवालिया निशान खड़े करते हुए यूनियन के महासचिव राजेंद्र ठाकुर ने कहा कि सरकार अपने चहेतों को रेवड़ीयों के भाव सरकारी कार्यों के संविदा दे देती है और फिर गरीब मजदूरों को बिना किसी सामाजिक सुरक्षा में मुआवजा आपूर्ति के अपनी जान का जोखिम उठाकर विभिन्न तरह के कार्य करने पड़ते हैं उन्होंने सरकार की इस ठेकेदारी नीति का विरोध करते हुए मृतक जसवंत सिंह के परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट की है साथ ही सरकार से मांग की है कि मृतक जसवंत के परिवार को 20 लाख रूपये का मुआवजा दिया जाए तथा मृतक के परिवार से किसी सदस्य को संबंधित विभाग में ही नौकरी दी जाए।