मनोविज्ञान पर दो दिवसीय कार्यशाला संपन्न

राजगढ़ हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – राजगढ़

इटरनल यूनिवर्सिटी के अकाल कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स व सोशल साइंस के मनोविज्ञान विभाग के तत्वाधान में दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन दिनाक 7 व 8 मार्च को किया गया। यह कार्यशाला “दैनिक जीवन में मनोवज्ञान के विभिन्न पहलुओं में उपयोग” पर आयोजित की गयी। मनोवज्ञान विभाग के डॉ यशपाल व डॉ नीलम कुमारी ने जानकारी दी की कार्यशाला में शबद गायन के भक्तिमय संगीत तत्पश्चात दिप प्रज्जवलन से कार्यशाला का सुभारम्भ हुआ। कार्यशाला का मुख्य विचार बिंदु सकारात्मक सोच , जीवन में उद्देश्यों का महत्व , समस्याओं का समाधान , तनाव का मैनेजमेंट , सकारात्मक व्यहवार जैसी तात्कालिक मानव जीवन की समस्याओं पर चर्चा को न केवल विचारों से अपितु प्रायोगिक रूप से छात्राओं को प्रदर्शित किया। कार्यशाला के मुख्या वक्ता डॉ सोहन सिंह चंदेल जो की उद्योग जगत में जानेमाने मोटिवेशन तथा सकारात्मक सोच उन्नत करने के लिए एक चर्चित नाम है न केवल कम्पनीज के प्रोफेशनल्स को प्रोत्साहित करते ह अपितु छात्रों में अपने व्यवसाय को लेकर मानसिक तनाव व अवसाद को मनोवैज्ञानिक रूप से ठीक करते है। कार्यशाला में यूनिवर्सिटी कुलपति डॉ धालीवाल ने अपने सम्बोधन में डॉ चंदेल के प्रयासों की सहराना की और छात्राओं को हर संभव मानसिक व शारीरिक तनाव को तार्किक विधि से हल करने की सलाह दी। डॉ धालीवाल ने छात्रों को सर्टिफिकेट प्रदान किये और डॉ चंदेल को मोमेंटो से सम्मान दिया। डीन डॉ. पूर्वी अपने छात्रों की प्रदर्शन से अत्यंत प्रसन हुई व आशीर्वाद दिया। कार्यशाला में यूनिवर्वसिटी के 60 छात्रों ने व फैकल्टी ने भाग लिया।