झूठा श्रय लेने की आढ़ में जनता को गुमराह न करें सुखराम – किरनेश जंग

पॉवटा साहिब हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – पांवटा साहिब

विधानसभा क्षेत्र पांवटा साहिब के पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग ने वर्तमान विधायक सुखराम चौधरी को दो टूक कही है की वो झूठा श्रय लेने की आढ़ में जनता को गुमराह करना बंद कर दें और पांवटा साहिब के विकास की तरफ ध्यान दें।
पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग द्वारा जारी एक प्रेस बयान में कहा गया है की हिमाचल व् उत्तराखंड को आपस में जोड़ने वाले नए पुल की आधारशिला उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंदर सिंह रावत ने विकासनगर में रखी । इस पुल के निर्माण के बाद से विधानसभा क्षेत्र पांवटा साहिब के दर्जनों गांवों के ग्रामीणों को सुविधा मिलेगे साथ ही इस पुल के साथ लगती सड़क का भी कायाकल्प होगा। आने वाले समय में बढ़ते ट्रफिक की समस्या व् भारीभरकम वाहनों की आवाजी से को परेशानी लोगो को झेलनी पड़ रही थी उससे भी राहत मिलने सकेगी।
जारी प्रेस बयान में बताया गया है की इस पुल के निर्माण को लेकर पहल हमने अपने सहयोगी व् कांग्रेस विधायक विकासनगर नव प्रभात के सहयोग से की थी। इस पुल की डीपीआर के लिये हिमाचल व् उत्तराखंड के अधिकारीयों के साथ कई बार हमने विकासनगर में बैठके करवाई तब जाकर इसकी डीपीआर तैयार की गई , डीपीआर 53 करोड़ की बनी थी। हमने इस ड्रीम प्रोजेक्ट के बारे में समय समय पर सभी पत्रकार बंधुओं से भी जानकारी संझा की व् इसकी अपडेट के बारे में भी समय समय पर बताते रहे। नीति आयोग की मंजूरी के बाद अब करीब 43 करोड़ की लागत से पुल का निर्माण होगा।

विधायक सुखराम चौधरी पर लगाए यह आरोप :-

उन्होंने वर्तमान विधायक सुखराम चौधरी पर झूठा श्रय लेने का आरोप लगाते हुए कहा की सुखराम चौधरी श्रय लेने की होड़ में जनता को गुमराह करने का कोई मौका नहीं चूकते , उन्होंने जनता को गुमराह करते हुए हर मंच से इस पुल की डीपीआर तेयार करके इसे मंजूर करवाने का दावा किया, लेकिन शायद वो ये भूल गए है की आज का युग पढेलिखे और समझदार लोगो का युग है उन्हें राजनेतिक रोटियां सेकने के लिए गुमराह करना नामुमकिन है। पांवटा सहित से भगानी सड़क मगर को डिस्ट्रिक्ट मेजर रोड में डालने के लिए हमने काम किया लेकिन इसका श्रय भी सुखराम चौधरी ने लेने की कोई कसर नहीं छोड़ी। बातापुल से गोविन्द घाट बेरियज तक सड़क को चौड़ा करना व् इसके बीच दिवाईडर लगाने की शुरुआत हमने की लेकिन उसी चीज को तोड़ मरोड़ के जनता के सामने अलग अंदाज में पेश करने की भी भरपूर कौशिक की गई। यमुना नदी के तटीकरण को लेकर भी हमने अपने कार्यकाल में काम किया जिसके लिए भविष्य में करोडो की राशी खर्च होगी , इस विषय को भी हमने मीडिया के समक्ष रखा , लेकिन इसका श्रेय लेने की फिराक में भी सुखराम चौधरी लगे हुए है।
हमने अपने पांच साल के कार्यकाल में ग्रामीण क्षेत्र की सड़कों तक का सुधारीकरण करवाया , नई सड़कों का निर्माण करवाया लेकिन उस समय सुखराम चौधरी और उनकी टीम ने पद यात्रा के नाम से राजनेतिक शोशेबाजी की , आज पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र की तमाम सड़कें दुर्दशा का शिकार हो चुकी है सत्ता में आकर एक वर्ष का कार्यकाल बीत जाने के बाद भी सुखराम चौधरी सैकड़ो की दशा को नही सुधार पाए है ।

सुखराम चौधरी का पोलिटिकल करियर ख़त्म होने के कगार पर – किरनेश जंग

सुखराम चौधरी का खुद का पोलिटिकल करियर ख़त्म होने लगा है। आज के समय में उनके विधानसभा क्षेत्र में नाहन के विधायक व् विधानसभा अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल और शिलाई के पूर्व विधायक बलदेव तोमर का हस्तक्षेप है उनको तो विधानसभा क्षेत्र पांवटा साहिब में आयोजित होने वाले ख़ास कार्यक्रमों में भी बतौर मुख्य अतिथि शरीक होने का भी मौक़ा नहीं मिल पा रहा है।
उन्होंने विधायक सुखराम चौधरी पर आरोप जड़ते हुए कहा की वो श्रेय लेने के लिए जनता को गुमराह कर रहे है यदि वो खुद सत्ता में रहते हुए पांवटा विधानसभा क्षेत्र के लिए बड़ा काम नहीं कर पा रहे है तो कम से कम हमारे द्वारा जो शहर के लिए गत पांच वर्षो में पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह के सहयोग से काम किये गए है उसका श्रेय लेने के लिए जनता को गुमराह न करे।