सामाजिक बुराइयों को दूर करने से होगा स्वच्छ समाज का निर्माण : प्रकाशानंद चेतन्य महाराज

हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ – शिलाई

गिरिपार क्षेत्र के शिलाई के तहत पूर्णेश्वर महादेव मंदिर गिरनोल में आयोजित पांच दिवसीय शिव महापुराण कथा का पूर्णाहुति के साथ समापन हो गया है। पांच दिनों तक चले इस धार्मिक आयोजन में क्षेत्र के हज़ारों लोगो ने शिरकत की।
शिव महापुराण कथा के अंतिम दिन की कथा में व्यास प्रकाशानंद चेतन्य महाराज ने शिव ववाह का वर्णन किया। उन्होंने कहा कि जिस घर मे कन्या होती है वह लक्ष्मी का रूप होती है, हमेशा ही नारी का सम्मान करना चाहिए। उनपर अत्याचार करने वाले कायर लोग होते है जो महिलाओं पर अत्याचार कर पाप के भागीदार बनते है। इस दौरान प्रकाशानंद चेतन्य महाराज ने दहेज प्रथा पर चोट करते हुए कहा कि दहेज देना कानूनी जुर्म के साथ महापाप भी है।
इसके अतिरिक्त उन्होंने लोगों को नशा मुक्ति का संकल्प दिलाया, उन्होंने कहा की नशा समाज व् देश को भीतर से दीमक की तरह खोखला करता है। इसलिए नशे से बचना आवश्यक है। उन्होंने सभी माता पिता को संदेश दिया कि नशा मिटाने में पुलिस और प्रशासन का सहयोग करे तभी नशे जैसे दानव से मुक्ति मिल सके। उन्होंने कथा के साथ सामाजिक बुराइयों को दूर करने को कहा , उन्होंने कहा की बुराईयों का त्याग करने से हमारा समाज शुद्ध बनेगा। इस अवसर पर पूर्णेश्वर समिति गिरनोल के कार्य वाहक अध्यक्ष सुनील ठाकुर,इंदर ठाकुर,धनवीर ठाकुर,चमेल चौहान,कुंदन चौहान,बारू राम चौहान,विनोद शर्मा,दिनेश शर्मा,कपिल चौहान,पूर्व वीडीसी चेयरमेन बहादुर सिंह चौहान,निकराम शुक्ला,कृष्ण दत्त शर्मा, समस्त ग्राम पंचायत कांडो भटनोल,बनोगओर समुचे शिलाई क्षेत्र के अनुयायी मौजूद रहे कथा के बाद हजारो लोगो ने भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया।