sirmour news

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की खुद ही पोल खोल गए सांसद — वीरेंद्र कश्यप

सरकार हिमाचल

सिरमौर न्यूज़, शिलाई

शिमला संसदीय क्षेत्र से दो बार सांसद रह चुके वीरेंद्र कश्यप को अब देश की हालत पता चल पाई है । बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के अभियान की खुद ही पोल खोलते हुए सांसद ने कहा कि हिंदुस्तान में अभी भी इतनी गरीबी है कि महिलाओं के पास अपना तन ढकने के लिए भी कपड़े तक नहीं है, और मजबूरन उन्हें नग्न अवस्था में रहना पड़ता है। शिलाई उपमंडल के रोनहाट में दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले के दौरान सांसद वीरेंद्र कश्यप यह बात कही। सांसद ने बताया कि हालात इतने गंभीर है कि घर में अगर तीन महिलाएं हैं तो उनमें से दो नग्न अवस्था में रहती है क्योंकि सिर्फ एक महिला के तन को ढकने के लिए ही कपड़ा उपलब्ध हो पाता है। ऐसे में राष्ट्रव्यापी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के असल मायने और अभियान की हकीकत क्या है यह सांसद साहब खुद ही जनसभा को संबोधित करते हुए बता गए। भावुक होते हुए शिमला के सांसद ने बताया कि आज भी हिंदुस्तान की 22 करोड़ आबादी रोज भूखे पेट रहने को मजबूर है गरीबी इतनी चरम पर है कि लोग अपने लिए दो वक्त के खाने तक की व्यवस्था करने में भी असमर्थ है। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देशभर में चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जनसभा में उपस्थित लोगों को जानकारी दी और लाभ प्राप्त कर चुके लोगों के अनुभवों के बारे में भी बताया उन्होंने कहा की सांसद निधि से चार लाख रुपए खर्च कर इस स्वास्थ्य मेले का आयोजन सिरमौर जिला के अति दुर्गम क्षेत्र रोनहाट मैं इसलिए किया गया है ताकि उन गरीब लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं घर द्वार पर मिल पाए जो शहरों में जाकर अपना इलाज करवाने में असमर्थ है। इस मौके पर प्रदेश खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति के उपाध्यक्ष वह शिलाई विधानसभा के पूर्व विधायक बलदेव सिंह तोमर, एसडीएम शिलाई योगेश चौहान, विकास खंड अधिकारी शिलाई कंवर सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सिरमौर डॉ. केके पराशर, बीएमओ शिलाई डॉ. निर्दोष कुमार भारद्वाज, शिलाई भाजपा मंडल के अध्यक्ष सूरत सिंह चौहान, रास्त पंचायत के प्रधान सतपाल चौहान, रोनहाट व्यापार मंडल के अध्यक्ष सूरत सिंह मुनीम, गंगा राम सिंगटा, मानसिंह सिंगटा, टीकाराम शर्मा, रतिराम भारद्वाज संतराम शर्मा सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।