ग्राम पंचायत छोगटाली में लोगों दी नशे के कुप्रभाव के बारे में जानकारी

हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/राजगढ़

डी-लिंक एजुकेशनल सोसाइटी शिमला द्वारा ग्राम पंचायत छोगटाली के लोगों के स्वास्थय पर पड रहें नशे के कुप्रभाव व राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में ग्राम वासियों को जानकारी दी। इस कार्यक्रम मे लगभग 65 ग्रामीणों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग से आए स्वास्थ्य शिक्षक ने उपस्थित ग्रामीणों को बताया कि आजकल स्कुली छात्र नए नए तरीके के नशे का इस्तेमाल कर रहे, जिसका उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड रहा है। उन्होंने कहा की आज का युवा चिटठा जैसे खतरनाक नशे की चपेट में आ रहें और इसके उपयोग करने से युवा मौत के मुंह में जा रहा है। स्वास्थ्य शिक्षक ने उपस्थित ग्रामीणों से आवहान किया कि वह अपने बच्चों के उपर ध्यान रखें। इस कार्यक्रम में डी-लिंक एजुकेशनल सोसाइटी शिमला के चैयरमैन पवन शर्मा ने उपस्थित ग्रामीणों को हिमाचल प्रदेश युनिवर्सल हेल्थ प्रोटेकशन योजना, जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री डाइलिसिस कार्यक्रम, आयुष्मान भारत योजना, राष्ट्रीय एम्बुलेंन्स सेवा 108 व जननी एक्सप्रैस 102 योजना व हिमाचल सरकार द्वारा संचालित मुख्यमंत्री राज्य स्वास्थ्य देखभाल योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी । इस मौके पर पंचायत प्रधान सतपाल,उप प्रधान, सामाजिक अंकेक्षण इकाई के सदस्य भी मौजूद रहे।

इससे पहले भी में डी-लिंक एजुकेशनल सोसाइटी शिमला ने दाहन विद्यालय के स्कूली छात्र छात्राओं , धरोटी स्कूल के छात्र छात्राओं, दाहन पंचयात के ग्रामीणों को नशे से कैसे बचा जाए व इस फेलती कुरीति पर कैसे रोक लगाई जाए इस पर जानकारी व जागरूक किया गया था
इस जागरूकता अभियान के दौरान पंचायत प्रधान सहित सोशल ऑडिट के ग्राम पंचायत संसाधन व्यक्ति व वरीष्ठ नागरिक शामिल रहे उन्होंने इस जागरूकता कार्यक्रम की सराहना की ।