समाजसेवी हेमंत शर्मा फिर से बना गरीब परिवार के लिए फ़रिश्ता , किया 18वां अंतिम संस्कार

हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पावंटा साहिब

पांवटा साहिब में लावारिस लाशों के अंतिम संस्कार की मुहिम को जारी रखे हुए समाजसेवी हेमंत शर्मा अब उन लोगो के लिए भी किसी फ़रिश्ते से कम नहीं जो अपनों का अंतिम संस्कार करने में असमर्थ है। हेमंत शर्मा लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करते ही है लेकिन इसी कड़ी में एक और अध्याय जुड़ चुका है।
दरसल पांवटा साहिब के समाजसेवी हेमंत शर्मा लम्बे अरसे से पांवटा साहिब में लावारिस शवों का अंतिम संस्कार कर न केवल पुण्य कमा रहे है बल्कि अन्य लोगो के लिए भी प्रेरणा बन रहे है। एक बार फिर से हेमंत शर्मा ने एक गरीब परिवार की वृद्ध महिला का अंतिम संस्कार करके उसके परिजनों की मदद की है।
वीरवर सुबह पावंटा साहिब के रामपुरघाट में एक महिला की घर की छत से गिरने के कारण मौत हो गई थी। महिला को 108 की सहायता से सिविल अस्पताल पांवटा साहिब लाया गया था जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित करने के बाद उसका पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के हवाले कर दिया गया था। जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह जब प्रेमा देवी उम्र 65 वर्ष कपड़े सुखाने के लिए अपने घर की छत पर गई थी। इस दौरान महिला के पांव फिसलने के कारण वह छत से नीचे गिर गई। मृतक महिला उत्तर प्रदेश के औरैया गांव की रहने वाली थी जो अपने बेटे के साथ पांवटा साहिब के रामपुरघाट में किराये के मकान में रह रही थी। प्रवासी मजदूर परिवार पिछले करीब 4 वर्षों से रामपुरघाट में रह रहे हैं। जिनके पास अंतिम संस्कार करने के लिए भी पेसे नहीं थे ऐसे में हेमंत शर्मा को इसकी सूचना मिली तो वे तुरंत अपना कार्य छोड़ कर महिला का अंतिम संस्कार करवाने के लिए पहुँच गए और आज हेमंत शर्मा ने 18वां अंतिम संस्कार किया।