कानून व्यवस्था, यातायात व नशाखोरी पर लगाम प्राथमिकता मे शामिल- डीएसपी सोमदत्त

हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पावंटा साहिब

पावंटा साहिब में पिछले कई दिनों से खाली चल रहे डीएसपी पद पर नए डीएसपी ने पदभार संभाल लिया है।शुक्रवार को पत्रकारों से की गई बातचीत में डीएसपी सोमदत्त ने कहा कि शहर मे यातायात व कानून व्यवस्था सुदृढ़ करना उनकी प्राथमिकता रहेगी। साथ ही नशाखोरी को खत्म करने लिए हर संभव प्रयास किए जायेंगे। इसके लिए जन सहभागिता जरूरी है। इसके लिए पुलिस सामुदायिक योजना के तहत अधिक से अधिक सामाजिक संस्थाओं और लोगों से संपर्क किया जाएगा। गौर रहे कि सिरमौर ज़िला का पावंटा साहिब शहर संवेदनशील माना जाता है। यह पर प्रतिदिन आपराधिक घटनाएं होती रहती है। पावंटा साहिब में अपराधों पर रोक लगाना भी नए डीएसपी के लिए काफ़ी चुनोती भरा हो सकता है। बताया जा रहा है कि इससे पहले सोमदत्त सीआईडी मंडी में डीएसपी की पद पर तैनात थे। पांवटा साहिब तीन राज्यों हरियाणा , उत्तराखंड व उत्तरप्रदेश की सीमाओं के साथ सटा होने के कारण अति संवेदनशील क्षेत्र है। यहाँ नशा खोरी , ट्रफिक अव्यवस्था , क्राइम आदि कई चुनोतियाँ है जिसके लिए डीएसपी सोमदत्त ने अपने स्टाफ के साथ आते ही महत्वपूर्ण बैठक कर क्षेत्र से सम्बंधित अहम जानकारियां हासिल की व शहर में अपराध रोकने के लिए निर्देश जारी किए है। डीएसपी सोमदत्त ने लोगों से अपील की है कि वह शहर में कानून व्यवस्था को सुधारने में पुलिस का पूरा सहयोग करें।