दर्जनों मौतें होने के बाद भी नहीं जाग रहा पांवटा प्रशासन

सरकार हिमाचल

सिरमौर न्यूज़/पावंटा साहिब

पांवटा साहिब की पवित्र यमुना नदी तट पर आये दिन पर्यटकों व् श्रधालुओं का तांता लगा रहता है। धार्मिक आयोजन के समय लोग यहाँ स्नान करने पहुँचते है , लेकिन उनकी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासन द्वारा किसी तरह के इंतजाम नहीं किये गए है।

बीते कई वर्षो से पांवटा साहिब की यमुना नदी में डूबने से होने वाली मौतों के बाद भी प्रशासन नहीं जाग रहा है। धार्मिक नगर होने के चलते प्रतिदिन यहाँ पर सैलानियों सहित श्रद्धालु पहुँचते है व नदी के किनारे स्नान कर नदी के नज़ारे का आनंद लेते हैं, लेकिन नदी के किनारे पर्यटक सुरक्षित नहीं है| आलम यह है की प्रशासन व नगर परिषद् ने यहाँ पर सुरक्षा के कोई भी इंतजाम नहीं किये है। धार्मिक आयोजन पर नदी के किनारे काफी जायदा भीड़ रहती है साथ ही पर्यटक किनारे पर खड़े होकर सेल्फियां लेते हुए नजर आते है। यमुना के किनारे न तो प्रशासन ने कोई चेतावनी बॉर्ड लगाया है और न ही किसी गोताखोर को तैनात किया है| बतातें चले की यमुना नदी के किनारे इससे पहले नदी में डूबने से कई मौतें हो चुकी है,लेकिन इन हादसों के बाद भी प्रशासन ने इससे कोई सबक नहीं लिया है। पर्यटकों को यहाँ पर आये दिनों मौज मस्ती करते हुए देखा जाता है। नदी किनारे सुरक्षा न होने के कारण कभी भी बड़ा हादसा हो सकता हैं।