अपने वतन में जनसेवा की भावना से वापिस आया एनआरआई

हिमाचल

सिरमौर न्यूज / पांवटा साहिब

हिमाचल में डेरी फार्म के माध्यम से स्थानीय लोगो को रोजगार से जोड़ने व शुद्ध दूध ग्राहकों तक पहुँचाने की सोंच लेकर विदेश से एक नोजवान ने वतन वापसी की है। यह नोजवान न केवल युवाओं के लिए प्रेरणा बन कर सामने आया है बल्कि हिमाचल में डेरी से जुड़े बिजनस को नई दिशा की और ले जाने का काम कर रहा है।

बेहतरीन रोजगार की तालाश में युवा अपना देश छोड़ विदेशों का रुख करने लगे है। अपने देश में बड़ा होने के साथ शिक्षा प्राप्त करने के बाद अक्सर युवा विदेशों में जाकर बस जाते है और अपने देश को भूल जाते है। लेकिन कुछ युवा है जो विदेशो में पले बड़े हुए, शिक्षा ग्रहण की और अब अपने वतन में सेवा भावना के साथ वापिस आये है। मूल रूप से गाजियाबाद (उत्तरप्रदेश ) के प्रणय दुबे ने भी अपने कई वर्ष विदेशों में बिताये और अपने परिजनों की कहने पर स्वदेश वापिस लोटे और हिमाचल के पांवटा साहिब में डेरी फार्म खोल कर न केवल बिज़नेस कर रहे है बल्कि यहाँ के दर्जनों स्थानीय लोगो को भी रोजगार से जोड़ा है। विदेशो ने डेरी के लिए उपयोग की जाने वाली अधुकिन तकनीक के देखने के बाद प्रणय ने इसे अपने देश के करने की ठान ली। आज प्रणय अपने पिता विवेक दुबे के साथ मिलकर पांवटा साहिब के भगानी गाँव में डेरी फार्म का कारोबार संभाले हुए है जहाँ से बिना केमिकल और बिना मिलावट वाला दूध पांवटा ही नहीं बल्कि पडोसी राज्य उत्तराखंड में भी सप्लाई कर रहे है।

हालाँकि इस कारोबार के लिए उन्होंने प्रदेश सरकार व् सम्बंधित विभाग के कार्यालयों के चक्कर भी काटे लेकिन उनके लिए सभी प्रक्रियाएं सरल नहीं थी बावजूद इसके बिना सरकार के सहयोग के करीब 6 करोड़ की लागत से इस डेरी फार्म को तेयार किया गया जहाँ अच्छी नसल की गायें रखी गई , हाईटेक मशीनरी के साथ मिल्क प्लान स्थापित किया। ज्यादा दूध के लिए पशुओं को संतुलित आहार के साथ साथ उनका रख-रखाव भी बेहतरीन करीके से किया जा रहा है। हालाँकि इस फार्म को बड़ा स्वरुप देने का काम चला हुआ है जिसके माध्यम से सेंकडो की संख्या में स्थानीय लोगो को भी रोजगार मिलेगा। लेकिन इन सभी चीजों के लिए सरकार के सहयोग की अपेक्षा है जो अभी तक इस फील्ड के इन्वेस्टर्स को नहीं मिल पा रहा है। यदि प्रदेश सरकार व सम्बंधित विभाग इस और ध्यान दें तो हिमाचल के कई इलाकों में इस माध्यम को युवा स्वरोजगार की तरह अपना सकते है।