खैर की लकड़ियां चोरी करने मामले में मुख्य आरोपी पुलिस गिरफ्त में

क्राइम हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

पावटा साहिब के सतौन वन क्षेत्र से खैर की लकड़ी चोरी मामले में वन विभाग व् पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। विगत दिनों बड़ी मात्रा में पकड़ी गई खैर की लकड़ियां चोरी करने के मुख्य आरोपी अनीश अहमद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हनीश मोहम्मद लगभग 5 लाख की कीमत की खैर की लगभग 60 क्विंटल लकड़ियों की तस्कसरी का आरोपी हैं। सतोंन बीट के तहत सूखे खैर काटने का ठेका अनीश के बेटे के नाम था। अनीश के खिलाफ वन संपदा चोरी करने के अलावा फारेस्ट एक्ट के तहत मामले दर्ज हैं।
हनीश मोहम्मद पर आरोप हैं कि उसने श्री रेणुका जी वन मंडल की सतोंन बीट से सूखे पेड़ों के ठेके की आड़ में बड़ी संख्या में हरे पेड़ भी उड़ा दिए थे। वन विभाग ने यहां लगभग 60 क्विंटल खैर की लकड़ी एक ट्रक से पकड़ी थी। यह ट्रक हनीश मोहम्मद पत्नी के नाम है। यही नहीं सतोंन बीट में खैर के सूखे पेड़ काटने का परमिट भी हनीश मोहम्मद के बेटे के नाम है। हरे पेड़ काटने के मामले में भी वन विभाग ने अनीश के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई है। इसके अलावा हिस्ट्री शीटर अनीश पर आर्म्स एक्ट के साथ साथ लगभग एक दर्जन अन्य मामले चल रहे हैं। मामला सामने आने के बाद पुलिस और वन विभाग ने अनीश मोहम्मद को आरोपी बनाया था लेकिन हनीश ने प्रदेश उच्च न्यायालय से अग्रिम जमानत ले ली थी उधर सोमवार को उच्च न्यायालय ने हनीश मोहम्मद की जमानत याचिका रद्द कर दी और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। डीएफओ श्री रेणुका जी श्रेष्ठा नन्द ने बताया कि सतोंन बीट के तहत खैर के अबैध कटान के मामले में वन विभाग ने एफआईआर दर्ज करवाई है। उन्होंने कहा कि इस मामले में पुलिस एवं वन विभाग संयुक्त रूप से जांच कर रहे हैं।