कोलर गांव में आत्महत्या का सनसनीखेज मामला आया सामने

क्राइम हिमाचल

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

पांवटा साहिब के तहत कोलर गांव के एक व्यक्ति का शव जंगल में लटका हुआ । मृतक की पहचान 38 वर्षीय रमेश कुमार के रूप में हुई है जो चूरापोस्त सप्लाई करने के आरोप में वांछित था। इस मामले में रमेश कुमार कुमार की जिला सेशन कोर्ट और हाई कोर्ट से जमानत रद्द हो गई थी। ऐसे में माना जा रहा है कि गिरफ्तारी के डर से रमेश कुमार ने आत्महत्या की है।
पांवटा विकासखंड के माजरा थाने के तहत कोलर गांव में आत्महत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां 38 वर्षीय रमेश कुमार ने गिरफ्तारी के डर से मौत को गले लगा लिया। दरअसल रमेश कुमार चूरा पोस्त सप्लाई के आरोप में वांछित था। बीते माह कोलर हरियाणा रोड पर एक 19 वर्षीय लड़के के पास 57 किलो चूरा पोस्त की खेप पकड़ी गई थी। इस युवक ने पूछताछ के दौरान चुरा पोस्त की बड़ी खेप अपने मामा रमेश कुमार से खरीदने की बात कही था।पुलिस ने इस मामले में रमेश कुमार को भी आरोपी बनाया था। लेकिन रमेश कुमार ने प्रदेश उच्च न्यायालय से जमानत ले ली थी। विगत दिन जमानत अवधि खत्म होने पर उच्च न्यायालय ने रमेश कुमार को दोबारा जमानत नहीं दी। लिहाजा रमेश कुमार की गिरफ्तारी तय मानी जा रही थी। उधर गिरफ्तारी के डर से रमेश कुमार ने मन बुधवार की रात कोलर के जंगल में जाकर आत्महत्या कर ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार रमेश कुमार नशे का पुराना सप्लायर है और वह पहले भी जेल काट चुका है लेकिन इस बार चुरा पोस्त सप्लाई और तस्करी करने के आरोप में पहले उसका भांजा और अब वह स्वयं फस गया था। लिहाजा उसने आत्महत्या कर ली। हालांकि प्रारंभिक जांच में मामला आत्महत्या का लग रहा है लेकिन पुलिस इस मामले के हर पहलू की बारीकी से जांच कर रही है। पांवटा डीएसपी प्रमोद चौहान ने बताया कि मौत के असली कारणों का पता फॉरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद चल पाएगा।