चूड़धार में ताज़ा हिमपात, तापमान पहुंचा माइनस जीरो डिग्री से भी नीचे

मौसम

सिरमौर न्यूज़ / राजगढ़
सिरमौर जनपद की सबसे ऊंची चोटी व प्रसिद्ध धर्मिक चूड़धार में गुरुवार को सीजन का पहला हिमपात हुआ। चूड़धार में हुई बर्फबारी के कारण गिरिपार क्षेत्र के तापमान मे भारी गिरावट आई हैं।दोपहर बाद गिरिपार क्षेत्र के कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी हुई।चूड़धार में सुबह 10 बजे के बाद अचानक मौसम खराब हुआ। तेज हवाओं चलने के साथ हो दोपहर 12 बजे के बाद वहां पर हल्की बर्फबारी शुरू हुई। ,चंडीगढ़ व हरियाणा से लगभग दो दर्जन से अधिक श्रदालु चूड़धार पहुंचे हैं। श्रदालुओ को मालूम नही था कि चूड़धार में उन्हें बर्फबारी का भी सामना करना पड़ सकता हैं।ताजा बर्फबारी के बीच कुछ समय के लिए मौज मस्ती करने के बाद दो बजे जैसे ही बर्फबारी तेज हुई व ठंड का प्रकोप बढ़ने लगा सभी श्रदालु उसी समय चूड़धार से नोहराधार के लिए रवाना हो गए।अक्टूबर माह में बर्फबारी करीब 20 वर्ष बाद हुई हैं अकसर यहां नवम्बर माह में होती हैं।
चुड़ेश्वर सेवा समिति के प्रबंधक बाबूराम शर्मा ने बताया कि 26 सितम्बर से श्राद्ध चले हुए है जिसके कारण कम संख्या में श्रद्धालु चूड़धार पहुंच रहे हैं। उन्होंने बताया कि सिरमौर शिमला, सोलन जिलों से बहुत ही कम संख्या में श्रदालु चूड़धार पहुंच है है मैदानी इलाकों से ही अधिक सँख्या में श्रदालु चूड़धार पहुंच रहे हैं। शर्मा ने बताया कि दोपहर बाद चूड़धार में लगातार बर्फबारी हो रही हैं। बर्फबारी के कारण चूड़धार का तापमान माइनस जीरो डिग्री से भी नीचे चला गया हैं। चूड़धार में बर्फ गिरने से नोहराधार ,हरिपुरधार कूपवी आदि क्षेत्रो में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है लोगो ने गर्म कपड़े पहनने शुरू कर दिए हैं।