राज्य सहकारी बैंक निदेशक पद चुनाव ,अरविन्द गुप्ता ने रिकॉर्ड 414 मतों के अंतराल से दर्ज की जीत

लेटेस्ट न्यूज़

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब

हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के निदेशक पद के चुनाव के नतीजे भाजपा की आशाओं के अनुरूप रहे। बैंक के नाहन जोन निदेशक पद के चुनाव में भाजपा समर्थित प्रत्याशी अरविंद गुप्ता ने अपने एकमात्र प्रतिद्वंदी कांग्रेस समर्थित पूर्व निदेशक सोमनाथ शर्मा को 414 मतों से शिकस्त दी। चुनाव में अरविन्द गुप्ता को 1232 मत मिले जबकि कांग्रेस समर्थित सोमनाथ शर्मा को 818 मतों से ही संतोष करना पड़ा|
विधानसभा चुनाव के बाद और लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने महत्वपूर्ण जीत हासिल की है। इस जीत को लोकसभा चुनाव के सैमीफाइनल के तौर पर भी देखा जा रहा है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि कांग्रेस और भाजपा दोनों दलों ने इस बार सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक पद के निदेशक पद के लिए आम चुनाव जैसा प्रचार किया था। बैंक निदशक पद के चुनावों में यह पहली बार देखा गया जब कांग्रेस और भाजपा दोनों दलों ने जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया। मत प्रतिशत भी इसी हिसाब से रहा। इन चुनावों में लगभग 50 फीसदी वोट डले। नहान जॉन निदेशक पद का चुनाव समूचे प्रदेश में इसलिए भी महत्वपूर्ण रहा क्योंकि इसमें इस चुनाव से पहले प्रदेश भर में किसी भी निदेशक पद के लिए सबसे अधिक वोट पड़ा है।


शांतिपूर्ण संपन्न हुए चुनाव बूथ नंबर 1 पर 380, बूथ नंबर 2 पर 406, बूथ नंबर 3पर 382, बूथ नंबर चार पर 394, बूथ नंबर पांच पर 276, बूथ नंबर 6 पर 231 वोट पड़े। नाहन जोन में प्रदेश राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के कुल 7360 शेयर होल्डर यानी वोटर थे। जिनमें से लगभग 3000 वोटरों की मृत्यु हो चुकी है। ऐसे में लगभग 4360 वोटरों ने अरविंद गुप्ता पंडित सोमनाथ शर्मा के भविष्य का फैसला करना था। इनमें से 2067 वोटरों ने अपने मत का प्रयोग किया।