भाजपा के राज में सड़कों पर गोमाता

धार्मिक राजनीति लेटेस्ट न्यूज़ समस्या हिमाचल

हिंदुत्व तथा गो-गंगा के नाम पर सत्ता में आई भाजपा सरकार ने इन दिनों गोमाता से मुक्त मोड़ लिया है। हिमाचल प्रदेश में बेसहारा पशुओं के  संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश के समतल व सीमावर्ती इलाके पांवटा साहिब में भी दर्जनों लावारिस पशु दिन-रात सड़कों पर घूमते रहते है लेकिन यहाँ इनके लिए नागर परिषद द्वारा कोई व्यवस्था नहीं की गई है। सड़को पर घूम रहे ये पशु अनेको दुर्घटनाओं के कारण बन रहे है साथ ही शहर का कचरा चुगकर भीषण बीमारियों के शिकार हो रहे है।

हाल ही में प्रदेश भर में गोशालाओं में भूख से मर रहे व उपेक्षा का शिकार हो रहे गोधन का मामला चर्चा में रहा जिसके बाद प्रदेश सरकार ने प्रदेश भर में इनके लिए उचित व्यवस्था करने के बड़े बड़े दावे किये थे लेकिन पांवटा साहिब में प्रदेश सरकार के ये दावे खोखले होते नज़र आ रहे है। पांवटा साहिब में लगातार बेसहारा पशुओं की संख्या बढ़ती जा रही है। दिन रात मुख्य बाजार से लेकर नेशनल हाइवे पर जगह जगह बेसहारा पशु घूमते रहते है जिसके चलते यहाँ आये दिन सड़क दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है। सरकार के आदेशों के बावजूद भी इन बेसहारा पशुओं को आसरा देने में स्थानीय प्रशासन और नगर परिषद् नाकाम होता नज़र आ रहा है।

गोवंश के ये हाल उस विधानसभा क्षेत्र के है जहाँ के विधायक बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष है और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के खासमखास शिलाई के पूर्व विधायक व् प्रवक्ता बलदेव तोमर का आवास भी है। हालाँकि प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने करीब डेढ़ वर्ष पूर्व यहाँ गोशाला के लिए डेढ़ लाख रूपए की धनराशि भी मुहैया करवाई थी लेकिन गोशाला की इमारत बनकर तैैैयार होने के बाद भी उसमे गोधन की व्यवस्था नही की गई है। वहीं पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से इस समस्या के जल्द समाधान की मांग की है।

उधर इस मामले पर विधायक व बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष सुखराम चौधरी ने आश्वासन दिया है की शीघ्र ही पांवटा साहिब नगर परिषद् और स्थानीय प्रशासन के साथ बैठक कर इसका समाधान किया जाएगा।  उन्होंने कहा की प्रदेश सरकार इस मामले में संजीदा है और हर विधानसभा क्षेत्र में एक एक ” काऊ सेंचुरी ” बनाने के लिए योजना बना रही है जिसके तहत अभी हाल ही में पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के राजगढ़ में भी एक ” काऊ सेंचुरी ” की आधारशिला रखी गई है।