पड़ोसी के घर में घुसकर घरवालों सहित मजदूरों पर लाठी-डंडों से हमला

क्राइम

सिरमौर न्यूज़ / पांवटा साहिब
पावटा साहिब के सालवाला पंचायत में आज पूर्व प्रधान के परिवार द्वारा अपने पड़ोसी की प्रॉपर्टी में घुसकर उनपर लाठी डंडों से हमला करने का मामला प्रकाश में आया है। पूर्व प्रधान के परिवार की एक दर्जन औरतें कुछ आदमियों के साथ दीपक भंडारी की प्रॉपर्टी में घुसे और यहां दीपक भंडारी के बेटे व उनके मजदूरों पर लाठी डंडों से हमला बोल दिया। हमले में एक श्रमिक के कंधे में गंभीर चोट भी आई| करीब डेढ़ माह पहले ही आरोपियों द्वारा दीपक भडारी के घर की सुरक्षा दीवार तोड़ी गयी थी जिसके बाद सिंगपुरा चौकी में मामला भी दर्ज किया गया था पिछले करीब दो हफ्तों में आरोपियों के खिलाफ 6 मामले दर्ज हो चुके हैं। लेकिन पुलिस ने अभी तक कागजी करवाही के अलावा कोई कार्यवाही नही की है, जिससे आरोपियों के होंसले बुलंद हो रहे हैं। मारपीट के बाद क्षेत्र में तनाव बना हुआ है। मामले में करवाही न होने से लोग नाराज है। फिलहाल मौके पर भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद है।
बताते चलें की पावटा साहिब क्षेत्र में सुनियोजित अपराध की बढ़ती वारदातों से क्षेत्र के लोग खोफ में हैं। बार बार ऐसे मामले प्रकाश में आ रहे हैं और पुलिस हर बार अपराध रोकने में नाकाम साबित हो रही है। ऐसा लगता है कि पुलिस पस्त और अपराधी मस्त हैं। साल वाला में मारपीट की घटना के बाद से तनाव है। पीड़ित अब अपनी सुरक्षा खुद करने को मजबूर हो गए हैं। दरअसल यहां जमीन विवाद का एक मामला चल रहा है। लेकिन मामले में पीड़ित दीपक भंडारी की शिकायत पर जमीन की निशानदेही पुलिस की मौजूदगी में कार्रवाई गई। लेकिन पूर्ब प्रधान के परिजन इससे संतुष्ट नही है। शुक्रवार को नाराज लोगों ने कानून हाथ मे लेते हुए दीपक भंडारी के बेटे व यहां दीवार बना रहे मजदूरों पर हमला कर दिया। हमले में एक श्रमिक विरेन्दर के कंधे में गंभीर चोट आई है।
मामले में हैरानी की बात यह है कि हमलावरों के खिलाफ दो सप्ताह के भीतर 6 एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं। यानी आरोपियों के मन मे कानून का कोई खोफ नही है। और बार बार दीपक भंडारी की प्रॉपर्टी में घुस कर मारपीट तोड़फोड़ और लूटपाट कर रहे है। शुक्रवार को तो आरोपियों ने हद ही कर दी। हाथ मे लाठी डंडे ले कर एक दर्जन महिलाएं और आदमी यहां घुसे और ताबड़तोड़ हमला कर दिया। हमले के समय दीपक भंडारी का बेटा श्रीमिकों के साथ अकेला था। गनीमत यह रही कि मामले में सब की जान बच गई।
हालांकि मारपीट के बाद पुलिस को सूचना दी गई और मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस मौके पर पहुंच गए है। उधर एस पी सिरमौर रोहित मालपानी ने फ़ोन पर बताया कि पुलिस मौके पर पहुंच गए है। हालात काबू में है और आरोपियों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।