बैसाखी मेले की दूसरी सांस्कृतिक संध्या मोहम्मद दानिश के नाम

सांस्कृतिक

सिरमौर न्यूज। राजगढ़
मोहम्मद दानिश ने गीतों की एसी झड़ी लगाई कि दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए। उन्होने रश्के कमर तूने पहली नजर जब नजर से मिलाई मजा आ गया गीत के साथ स्टेज पर प्रवेश किया और उसके बाद नॉन स्टॉप कजरा मोह्हबत वाला, जीने के है चार दिन, जुगनी, सावन में लग गयी आग मस्त नजरो से अल्ला बचाए, तुम्हे दिल्लगी भूल जानी पड़ेगी मोह्हबत की राह में आकर तो देखो, चांदनी रात खिल रही होगी आदी गीतों से दर्शको का भरपूर मनोरंजन किया। दुसरी संध्या में संगडाह के कलाकार दीपक चौहान ने भी अपनी गायकी की छाप छोड़ी द्य उन्होंने खामोशियो, प्यार नसीबा नाल मिल्दा के साथ तेरा मेरा प्यार दाड़ीये बचपनो रा, पाता पानो रा, लागा ढोलो रा धमाका आदी नाटियो से दर्शको को भावविभोर किया द्य स्टार कलाकार राजेश मलिक ने भी एसी मुन्जरे जोगी जवाना, तेरी शांगरी, रोहडू जाना मेरी आमिये नाटियो से दर्शको का नचाया। इनके साथ ही नरेंद्र नीटू ने हिन्दी और पहाड़ी गीतों से अपना प्रभाव छोड़ा। कंडाघाट की कलाकार किरण कश्यप ने शास्त्रीय नृत्य से प्रभावित किया। अतुल राजटा, राहुल शर्मा, नरेश, पूजा चौधरी ने भी कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

इससे पहले दुसरी सांस्कृतिक संध्या में ए डी सी सिरमौर आदित्या नेगी बतौर मुख्यातिथी शामिल हुए। मेला कमेटी अध्यक्ष उपमंडलाधिकरी राजगढ़ नरेश वर्मा ने उन्हें टोपी शाल व् स्मृती चिन्ह द्वारा सम्मानित किया। इस अवसर पर तहसीलदार राजगढ़ विवेक नेगी, बीडीओ के डी कश्यप, जिला भाजपा सचिव सुनील ठाकुर, मंडल उपाध्यक्ष सुरेश ठाकुर, नरेंद्र ठाकुर, नवीन शर्मा आदी गणमान्य लोग उपस्थित थे।