शिलाई क्षेत्र में पिछले वर्ष से अपराध व दुर्घटनाओं का ग्राफ बड़ा

क्राइम

सिरमौर न्यूज। पांवटा साहिब
गिरिपार पहाड़ी क्षेत्र में मर्डर दुर्घटनाओं व अन्य अपराध बहुत कम होते थे। लेकिन पिछले एक वर्ष में क्षेत्र में बहुत मर्डर केस एक्सीडेंट हो चुके हैं। जिससे क्षेत्र में डर का माहौल बना हुआ है। लोगों को अपनी सुरक्षा के लिए सरकार से बार-बार आग्रह करने पर भी सिर्फ आश्वासन ही मिलता है। बता दे कि हिमाचल में भापजा सरकार में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के सौ दिन पूरे हो चुके है। क्षेत्र की समस्याएं ज्यों की त्यों बनी हुई है। जिस पर क्षेत्र के युवाओं का कहना है कि यहां पर ऐसी वारदातें होने से क्षेत्र में डर का माहौल बना हुआ है। जिस कारण यहां की महिलाएं व बालिका खुद को असुरक्षित महफूज कर रही है। क्षेत्र के लोगों ने सरकार व प्रशासन से आग्रह किया है क्षेत्र में मर्डर करने वाले लोगों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए। इसी कड़ी में कमराउ पंचायत के युवाओं का एक प्रतिनिधि मण्डल चंद्रमोहन ठाकुर के नेतृत्व में उपायुक्त सिरमौर ललित जैन मिला। क्षेत्र में नौजवानों बालिकाओं के मर्डर के मुद्दों के बारे में बातचीत की गई। उन्होनें बताया कि सतौन के चिलौन खड्ड में कई वारदाते हो चुकी है। यहां पर लड़कियों को मार कर सड़क से नीचे खाई में फेंक दिया जाता है जिससे पूरे क्षेत्र में तनाव का माहौल बना हुआ है बीते दिन भी यहां एक महिला का शव बरामद हुआ है। सतौन में पुलिस चौकी खोली जाए ताकि इस क्षेत्र में आए दिन घटनाएं न हो।
बता दे कि पिछले वर्ष 25 नवम्बर 2017 को माजरा की एक युवती का शव चिल्लौन में बरामद हुआ था। जिससे यहां मार कर फेंक दिया गया था। 29 दिसंबर 2017 को कफोट के समीप रहने वाले युवक सुरेश कुमार की भी इसी जगह पर मौत हुई थी। वहीं 27 फरवरी 2018 को सतौन में रह रहे हरियाणा निवासी अनिल कुमार का शव भी इसी इलाके में बरामद हुआ। 3 अप्रैल 2018 को इसी क्षेत्र में बड़वास निवासी रामचंद्र का शव फंदे से लटका मिला। 9 अपै्रल को हरियाणा के कुरुक्षेत्र की एक युवती का शव चिल्लोन के पास बरामद हुआ। जिससे इलाके में सनसन्नी का माहौल बना हुआ है।