राजगढ़ में निरंकारी श्रदालुयो द्वारा विशाल सेवादल रेली का आयोजन

धार्मिक

सिरमौर न्यूज़/ राजगढ़
उपमंडल राजगढ़ के तहत नेहरु मैदान में निरंकारी श्रदालुयो द्वारा एक विशाल सेवादल रेली का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता चंडीगढ़ जोन से आये महात्मा सोहन लाल बसी ने की | इस दोरान सोहन लाल बसी द्वारा सभी सेवादारो को सेवादल के नियमों बारे विस्तार से जानकारी दी गई | सेवादल रेली में राजगढ़ क्षेत्र के दूर दराज गाँव से श्रदयुयो ने बड चड़ कर भाग लिया | इसके पश्चात् निरंकारी भवन में ही विशाल सत्संग का आयोजन किया गया | इस दोरान सोहन लाल बसी ने निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के प्रवचनों को उपस्थित संगत को बताते हुए कहा की निरंकार परमात्मा ही एक ऐसी परमसता है जो यह हम सभी में व्यापक है | इसलिय इसकी जानकारी कर ली जाये तो सारा संसार एक हो सकता है | सद्गुरु प्रदत ब्रह्मज्ञान ही मानव में एकता ला सकता है | परमात्मा एक है जिसके हम सब बालक है | पिता की मोजुदगी ,एक परम पिता परमेश्वर की जानकारी ही मानव एकता का असली जरिया है | इस तरह जब परम पिता परमात्मा को जान लेंगे ,तभी हममे एकता आ सकेगी | इसके सिवाय एकता का कोई और तरीका है ही नहीं | बसी ने आगे फरमाते हुए कहा की निरंकार एक सर्वभोमिक सत्य है ,यह सबका साँझा है | इसका सम्बन्ध मानवता के मार्ग पर चलने वाले सच्चे संतो –भक्तो से है | न तो परमात्मा की कोई जाती है और न ही ही संतो ,भक्तो की कोई जाती होती है | उनके लिए तो सारा विश्व ही एक परिवार के समान है | भक्त अपने लिय बही बल्कि दुसरो के लिए जीवन जीते चले जाते है | उनका सम्पूर्ण जीवन मानवता के परोपकार के लिए होता है | सत्य इनके जीवन का आधार होता है | भक्त की सोच हमेशा सकारात्मक हुआ करती है | भक्त अपने दिलो को कमजोर नहीं होने देते है ,अपनी भक्ति निभाते चले जाते है और खामखा अपने मन को बोझिल नहीं करते है | वो पूर्ण रूप में अपने आपको समर्पित करते है | इस प्रकार से जीवन के इस सफर को वो तय करते चले जाते है,अपनी प्रीति निभाते चले जाते है और संसार को भी जागरूक करते चले जाते है | इससे पहले संगत की आरम्भ्ता शिक्षक रंजित सिंह ने पवित्र आवतार वाणी से शुरू की व् इसके बाद सयोजक भोला नाथ साहनी , संचालक गनपत राम , नरेश ,रमेश ,संतोष,सीमा ,रीता ,नवदीप साहनी , सत्या , सुदीप,शगुन , कल्पना ,आशु ,रजत ,हीरा सिंह सहित दर्जनों भक्तो ने अपने विचार रूप व् गीतों द्वारा संगत से आशीर्वाद प्राप्त किया |