आखिर किसकी शय पर चल रहा है नशे का अवैध कारोबार

क्राइम

सिरमौर न्यूज। पांवटा साहिब
नशे के बढ़ते कारोबार ने शहर में तो हांहाकार मचा रखी है। नशे के कारोबारियों ने गांव की ओर रूख कर दिया है। जिसके चपेट में युवक आ रहा है और उनकी जिंदगियों को तब्हा कर रहा है। जिसके चलते नशे के कारोबार में आंजभौंज क्षेत्र भी अछूता नही रहा है। नशे के कारोबार करने वाले गिरोह यहां बेधडक नशे का कारोबार कर रहे है। नशे के कारोंबारियों के होंसलें बुलंधियों को छू रहे है। नशा माफिया दिन व रात नशे की तस्करी करने में पूरी तरह मजबूती से खड़े है।
बताते चले कि वितग वर्ष अम्बोया में झोला छाप चिकित्सक के पास के पुलिस ने नशे के भारी मात्रा में कैप्सूल पकड़े थे। जिसके बाद क्षेत्र में काफी राहत मिली थी। यहाँ पर के कारोबारियों के होंसले तो इतने बुलंद है, कि इन्हें कोई चूर नही कर सकता। बुधवार को अम्बोया में शंकर फास्ट फूड़ की दुकान से पुलिस ने 11 बोतल देसी शराब की बरामत की है। यही नही यहां पर नशे के कई कारोबारी दुबके पड़े है। उन पर कार्यवाही आखिर कब की जाएगी।
गनीमत यह है कि यह दुकान राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अम्बोया के 100 मीटर के दायरें में आती है ओर स्कूल प्रशासन इस पर नकेल कसने में नाकाम रही है। स्कूल प्रशासन ने बताया कि स्कूल एसएमसी की बैठक जल्द ही आहुत की जा रही है। नशे कारोबारीयों को नोटिस के माध्यम से सचेत कर उन पर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
वहीं दूसरी ओर दुकान से करीब 100 मीटर की दूरी पर न्यायालय पंचायत घर अम्बोया है। जहां पर ग्रामीणों के द्वारा चुने गए प्रतिनिधी ही जानबुझ कर चुप बैठे है। नशे के कारोबारियों की नकेल कसने में ग्राम पंचायत अम्बोयां भी कोई प्रयास नही कर रही है। नशे के चपेट में यहां के अधिकांश लोग आ गए है। लोगों को बच्चों की चिंता सताने लगी है। इन्हें नशे से कैसे दूर ले जाए। उधर ग्राम पंचायत अम्बोया के प्रधान निशिकांत ने बताया कि पुलिस को पंचायत ने लिखित रूप से शिकायत भेजी है। पंचायत नशे के कारोबार का धंधा करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग पुलिस के माध्यम से करती है।